करंट अफेयर्स 25 जनवरी 2018

दैनिक समसामयिकी 25 January 2018

1.संरक्षणवाद पर चीन भी हुआ मोदी का मुरीद
• विश्व पटल पर हर मोर्चे पर भारत का विरोध कर रहे पड़ोसी मुल्क चीन ने अंतत: दावोस में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के उद्घाटन भाषण की जमकर तारीफ की है। पीएम मोदी के संरक्षणवाद को आतंकवाद जितना घातक बताने का चीन ने स्वागत किया है। साथ ही वैश्वीकरण की प्रक्रिया को और मजबूत करने के लिए भारत के साथ सहयोग बढ़ाने में रुचि दिखाई है।
• चीनी विदेश मंत्रलय की प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने बुधवार को मीडिया से कहा, ‘हमने गौर किया कि प्रधानमंत्री मोदी ने संरक्षणवाद पर कुछ टिप्पणी की है। उनके वक्तव्य से जाहिर है कि वैश्वीकरण आज का चलन है। इसी में विकासशील देशों समेत सभी देशों का हित है। इसीलिए सभी देशों को संरक्षणवाद के खिलाफ लड़ना चाहिए और वैश्वीकरण को बढ़ावा देना चाहिए।’
• चीनी प्रवक्ता ने यह भी कहा कि चीन भारत और अन्य देशों के साथ काम करने का इच्छुक है। ताकि वैश्वीकरण की प्रक्रिया सभी देशों के लिए लाभकारी हो। उन्होंने कहा कि चीन और भारत के साझा हित हैं। वह भारत के साथ संयोजन और सहयोग बढ़ाना चाहता है।
• हुआ के इस चौंकाने वाले वक्तव्य को चीन के सरकारी मीडिया में भी खास जगह मिली है। दावोस में मोदी के भाषण को चीन के सरकारी मीडिया ने प्रमुखता से प्रकाशित किया है। ग्लोबल टाइम्स जैसे अखबारों ने मोदी के भाषण वाली खबर के साथ उनकी फोटो भी पहले पेज पर छापी है।
• गौरतलब है कि मोदी ऐसे पहले भारतीय प्रधानमंत्री हैं जिन्होंने पिछले दो दशकों में पहली बार दावोस में विश्व आर्थिक मंच (डब्लूईएफ) के सालाना सम्मेलन में ना सिर्फ शिरकत की बल्कि उद्घाटन भाषण देकर बैठक की दिशा तय की।
• विगत मंगलवार को भारतीय प्रधानमंत्री ने आतंकवाद, पर्यावरण परिवर्तन और संरक्षणवाद पर चिंता व्यक्त की थी। उल्लेखनीय है कि चीनी का समर्थन ऐसे समय में आश्यर्चजनक है जब वह वैश्वीकरण से सबसे अधिक फायदा उठाने वाले देशों में से एक है। पिछले तीन दशकों में विश्व के विभिन्न हिस्सों में अधिकतम निर्यात करके अपने जीडीपी को दोहरे अंकों में कर लिया है।
• बीआरआइ पर चीन के साथ पाक : पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शाहिद अब्बासी ने दावोस में चीन की महत्वाकांक्षी सड़क परियोजना ‘बेल्ट एंड रोड’ को अपना पूरा समर्थन देते हुए कहा कि यह एक आधारभूत ढांचे से अधिक की साङोदारी है। वह दरारों से भरी इस दुनिया में चीन के साथ लंबा भविष्य साझा करेंगे।
• विश्व आर्थिक मंच की एक समूह चर्चा के दौरान अब्बासी ने कहा कि चीन के नजरिए और चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग का पूरा समर्थन करते हैं।
• चीन की यह महत्वाकांक्षी परियोजना व्यापार के लिए अपनाए जाने वाले प्राचीन सिल्क रूट को नए सिरे से रेल, जहाज और सड़क मार्ग से एशिया को यूरोप और अफ्रीका से जोड़ने की परियोजना है।
• इस रूट को लेकर भारत और चीन में विवाद है क्योंकि इस मार्ग का एक हिस्सा पाकिस्तान के कब्जे वाले गुलाम कश्मीर से होकर जाता है।

2. उड़ान-2 योजना के तहत जोड़े गए 60 नए शहर
• क्षेत्रीय संपर्क योजना ‘‘उड़ान’ के दूसरे चरण के तहत करगिल, दरभंगा, हरिद्वार, मसूरी, बोकारो, पाकयोंग, इलाहाबाद, नैनीताल, मसूरी, अलीगढ़ और बरेली समेत 60 ऐसे शहरों से हवाई सेवा शुरू होगी जहाँ से अभी नियमित उड़ानें उपलब्ध नहीं हैं।
• ‘‘उड़ान’-2 के लिए कुल 15 विमान सेवा एवं हेलीकाप्टर सेवा प्रदाताओं को बुधवार को 325 मागरें का आवंटन किया गया। 109 हवाई अड्डों और हेलीपोटरें को जोड़ा जाएगा जिनमें 60 से अभी नियमित उड़ानों का संचालन नहीं होता है जबकि 13 ऐसे हवाईअड्डे और हेलीपोर्ट हैं जहां से अभी प्रति सप्ताह 14 से कम उड़ानों का संचालन होता है।
• दूसरे चरण में 31 हेलीपोटरें से भी सेवाएं शुरू करने के प्रस्ताव हैं। जिन शहरों से उड़ान के तहत सेवाएं शुरू की जाएंगी उनमें अरुणाचल प्रदेश में पस्सीघाट, इटानगर, तेजू, जीरो, असम का जोरहट, तेजपुर, बिहार का दरभंगा, गुजरात का कांडला, पोरबंदर, हरियाणा का हिसार, हिमाचल का कसौली, मंडी, शिमला, जम्मू-कश्मीर का करगिल, झारखंड का बोकारो, दुमका, कर्नाटक का हुबली, केरल का कन्नूर, महाराष्ट्र का कोल्हापुर, शोलापुर, जलगांव, मणिपुर का जिरिबम, पाबुंग, पंजाब का भटिंडा, राजस्थान का बीकानेर और जैसलमेर शामिल हैं।

3. बैंकों को मिलेगी बड़ी डोज
• सरकार ने बुधवार को पूंजी के अभाव से जूझ रहे सार्वजनिक क्षेत्र के 20 बैंकों में 88,139 करोड़ रूपये की पूंजी डालने की घोषणा की। इसमें सबसे ज्यादा 10,610 करोड रूपये की पूंजी आईडीबीआई बैंक को दी जाएगी।
• वित्त मंत्री अरुण जेटली ने बुधवार को संवाददाताओं के साथ बातचीत में कहा कि उनके मंत्रालय ने सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों में पूंजी डालने को लेकर विस्तृत विचार-विमर्श के बाद पूंजी डालने की सभी तैयारियां पूरी कर ली हैं।
• सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों में 2.1 लाख करोड़ रूपये क

ी नई पूंजी डालने की योजना पिछले साल अक्टूबर में घोषित की गई थी। इस योजना का क्रियान्वयन दो वित्त वर्षों 2017-18 और 2018-19 में किया जाएगा।
• घोषणा के मुताबिक 31 मार्च को समाप्त होने वाले चालू वित्त वर्ष के दौरान भारतीय स्टेट बैंक को 8,800 करोड़ रूपये और बैंक आफ इंडिया को 9,232 करोड रूपये दिए जाएंगे। इसके अलावा यूको बैंक को 6,507 करोड़ रूपये प्राप्त होंगे।

4. वेस्ट डीकंपोजर से किसानों को फायदा
• राष्ट्रीय जैविक केंद्र गाजियाबाद द्वारा विकसित किए गए वेस्ट डीकंपोजर उत्पाद से अब तक 20 लाख किसान लाभान्वित हो चुके हैं। इस उत्पाद के प्रयोग से कीटनाशक दवाओं का 90 फीसद तक उपयोग कम हो जाता है। राष्ट्रीय जैविक केन्द्र गाजियाबाद ने वर्ष 2015 में इस उत्पाद का आविष्कार किया था।
• इसका प्रयोग जैविक कचरे से तत्काल खाद बनाने के लिए किया जाता है तथा मिट्टी में सुधार के लिए बड़े पैमाने में केंचुए पैदा होते हैं और पौध की बीमारियों को रोकने के लिए इसका उपयोग किया जाता है। इसको देशी गाय के गोबर से सूक्ष्म जैविक जीवाणु निकाल कर बनाया गया है।
• वेस्ट डीकंपोजर की 30 ग्राम की मात्रा को पैक्ड बोतल में बेचा जाता है जिसकी लागत 20 रपए प्रति बोतल आती है। इसका निर्माण राष्ट्रीय जैविक खेती केंद्र, गाजियाबाद में होता है। आठ क्षेत्रीय जैविक खेती केन्द्र के माध्यम से देश के किसानों एवं उद्यमियों को उपलब्ध कराया जा रहा है।
• 20 लाख से ज्यादा किसान इससे लाभान्वित हुए हैं। इस वेस्ट डीकंपोजर को आईसीएआर द्वारा सत्यापित किया गया है। वेस्ट डीकंपोजर का उपयोग 1000 लीटर प्रति एकड़ किया जाता है। इसके इस्तेमाल से सभी प्रकार की मिट्टी के रासायनिक एवं भौतिक गुणों में 21 दिनों के भीतर सुधार आने लगता है।
• कृषि कचरा, जानवरों का मल, किचन का कचरा तथा शहरों का कचरा जैसे जैविक सामग्री 40 दिनों के भीतर गल कर जैविक खाद बन जाती है।
• वेस्ट डीकंपोजर का पौधों पर छिड़काव करने से विभिन्न फसलों में सभी प्रकार की बीमारियों पर प्रभावी ढंग से रोक लगती है। इस उत्पाद के बाद यूरिया, डीएपी या एमओपी की आवश्यकता नहीं पड़ती है।

5. रिलायंस रिटेल शीर्ष 250 वैश्विक खुदरा कंपनियों की सूची में
• रिलायंस रिटेल इस साल शीर्ष 250 नियंतण्र खुदरा कंपनियों की श्रेणी में आ गई है। सूची में कंपनी 189वें स्थान पर है। यह देश में उपभोक्ता व्यय में मजबूत वृद्धि की पुष्टि करता है।
• खुदरा क्षेत्र की कंपनियों के बारे में डेलायट ग्लोबल की रिपोर्ट के अनुसार, ‘‘रिलायंस की बिक्री का बड़ा हिस्सा रोजमर्रा के उपयोग का सामान बनाने वाली वस्तुओं की श्रेणी से आता है। कंपनी की वित्त वर्ष 2015-16 में खुदरा आय में करीब 59.2 प्रतिशत की वृद्धि हुई है।’
• रिलायंस इंडस्ट्रीज लि. (आरआईएल) की खुदरा अनुषंगी परिधान तथा जूता-चप्पल खंड में विश: रिलायंस ट्रेंड्स तथा रिलायंस फुटप्रिंट के नाम से कारोबार करती है।
• साथ ही रिलायंस डिजिटल के नाम से उपभोक्ता इलेक्ट्रानिक सामान बनाती है। डेलायट इंडिया के भागीदार अनिल तलरेजा ने कहा, ‘भारत में खुदरा क्षेत्र की कहानी मजबूत बनी हुई है।’

6. एयरक्रॉफ्ट सारस के अपग्रेड वर्जन की पहली परीक्षण उड़ान सफल
• स्वदेश निर्मित ट्रांसपोर्ट एयरक्रॉफ्ट सारस के अपग्रेड वर्जन की बुधवार को पहली परीक्षण उड़ान सफल रही। वैज्ञानिक एवं औद्योगिक अनुसंधान परिषद की नेशनल एयरोनॉटिक्स लैबोरेटरी निर्मित 14 सीटों वाले सारस पीटी1एन ने 40 मिनट तक उड़ान भरी।
• सीएसआईआर ने कहा कि सारस के नए संस्करण की पहली उड़ान सफल रही है। सारस को पहले 20 सफल उड़ानें भरनी होंगी। उसके बाद ही आवश्यक औपचारिकताएं पूरी करने के बाद इसे नागरिक विमान सेवाओं के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है।
• सीएसआईआर के अनुसार पुराने सारस में कई बदलाव किए गए हैं। वजन कम किया गया है। सीट संख्या अभी 14 ही रखी गई है। सारस का जो संस्करण बाजार में लाया जाएगा, उसमें 19 सीट बनाने की योजना है।