दैनिक समसामयिकी 03 फ़रवरी 2019

ऋषि शुक्ला सीबीआई चीफ बने

मध्यप्रदेश के पूर्व पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) ऋषि कुमार शुक्ला को नया सीबीआई डायरेक्टर नियुक्त किया गया है। वे 1983 बैच के आईपीएस अधिकारी हैं। शुक्ला मूलत: ग्वालियर के रहने वाले हैं। उनकी शुरुआती पोस्टिंग सीएसपी रायपुर हुई। माना जा रहा है कि सरकार ने उनकी सीधे नियुक्ति की है, जबकि एक दिन पहले ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुआई वाली चयन समिति की दूसरी बार बैठक बेनतीजा रही थी। इस पैनल में शामिल कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर नियुक्ति पर आपत्ति जताई। उन्होंने कहा है कि शुक्ला को भ्रष्टाचार से जुड़े मामलों की जांच का अनुभव नहीं है। बतौर सीबीआई निदेशक उनका कार्यकाल प्रभार संभालने के बाद से दो साल के लिए रहेगा।

पीएम मोदी 23 फरवरी को रखेंगे जेवर एयरपोर्ट की आधारशिला

केंद्रीय पर्यटन मंत्री महेश शर्मा ने शनिवार को कहा कि लंबे समय से प्रतिक्षारत जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट का निर्माण जल्द ही शुरु हो जाएगा। उन्होंने कहा कि 23 फरवरी को एक समारोह के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ नोएडा में इसका शिलान्यास करेंगे। करीब पांच हजार हेक्टेयर में बनने वाला जेवर एयरपोर्ट उप्र के विकास में मील का पत्थर साबित होगा। जेवर एयरपोर्ट के बनने के बाद 40 विदेशी कंपनियों ने जेवर क्षेत्र में कार्यालय एवं फैक्ट्री खोलने के लिए सरकार से जमीन मांगी है। उन्होंने कहा कि जेवर हवाई अड्डा बनने से एक लाख से ज्यादा लोगों को रोजगार मिलेगा। महेश शर्मा ने बताया कि जेवर एयरपोर्ट देश का सबसे बड़ा हवाई अड्डा होगा। दिल्ली का हवाई अड्डा 24 सौ हेक्टेयर में है जबकि मुंबई का हवाई अड्डा 14 सौ हेक्टेयर में है।

केंद्रीय मंत्री मनोज सिन्हा ने जारी किया स्मारक डाक टिकट

तीर्थराज प्रयाग पहुंचे केंद्रीय दूर संचार एवं रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा ने ने कुंभ में शनिवार को स्मारक डाक टिकट जारी किया। इस मौके पर सिन्हा ने कहा कि डाक विभाग ने कई क्षेत्रों में नए आयाम स्थापित किए हैं। डाक विभाग ने तकनीक का इस्तेमाल कर कोर बैंकिंग की शुरुआत की है। इसके तहत देश में भ एक लाख तीस हजार इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक की शाखाएं खुल चुकी हैं। आने वाले दिनों में जल्द ही डाक विभाग बीमा के क्षेत्र में भी कदम रखेगा।

एरियन रॉकेट से लांच किया जाएगा भारतीय संचार उपग्रह

भारतीय संचार उपग्रह जीसैट-31 को एरियनस्पेस के एरियन 5 हैवी लिफ्ट रॉकेट की मदद से पांच फरवरी को फ्रेंच गुयाना स्थित अंतरिक्ष केंद्र से कक्षा में पहुंचाया जाएगा। एरियनस्पेस के मुताबिक रॉकेट दो उपग्रहों सऊदी जियोस्टेशनरी सेटेलाइट 1/हेलस सेट 4 और जीसैट-31 को ले जाएगा। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के अनुसार 2,535 किलोग्राम वाला जीसैट-31 40वां संचार उपग्रह है। यह उपग्रह भू-स्थैतिक कक्षा में केयू-बैंड ट्रांसपोंडर क्षमता को बढ़ाने का काम करेगा। बता दें कि जीसैट-31 15 वर्षो तक काम करने में सक्षम होगा।

अमेरिका से 73 हजार सिग सॉवर राइफलें खरीदने को मंजूरी

चीन और पाकिस्तान सीमा पर तैनात सेना के जवानों को अमेरिका में बनी अत्याधुनिक राइफलें दी जाएंगी। सेना के आधुनिकीकरण की दिशा में बड़ा कदम उठाते हुए रक्षा मंत्रलय ने अमेरिका से 73,000 सिग सॉवर राइफलों की खरीद को मंजूरी दे दी है। यह खरीद त्वरित प्रक्रिया के तहत की जाएगी। आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक, अगले साल तक ये राइफलें जवानों के हाथों में होंगी। इन्हें इंसास राइफल से रिप्लेस किया जाएगा।

ऑस्ट्रेलियाई एलपीजीए कार्ड हासिल करने वाली पहली भारतीय बनी वाणी कपूर

वाणी कपूर ऑस्ट्रेलियाई महिला पीजीए टूर (एलपीजीए) का कार्ड हासिल करने वाली पहली भारतीय गोल्फर बन गई हैं। वाणी ने बलारत गोल्फ क्लब में खेले गए पहले क्वालीफाइंग टूर्नामेंट में 71, 78 और 69 का कार्ड खेला । वह दो ओवर 218 के स्कोर के साथ संयुक्त रूप से 12वें स्थान पर रही। इस प्रतियोगिता में 81 खिलाड़ियों ने भाग लिया था जिसमें से शीर्ष 20 को ऑस्ट्रेलियाई एलपीजीए में खेलने का मौका मिलेगा।

पाकिस्तान को संकट से उबारने को चीन देगा ढाई अरब डॉलर का कर्ज

पाकिस्तान की नकदी की समस्या को दूर करने के लिए चीन उसे ढाई अरब डॉलर (17,865 करोड़ भारतीय रुपये) का कर्ज देगा। इस कर्ज का फैसला पिछले महीने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की चीन यात्र के दौरान हुआ था। पाकिस्तान पिछले कई महीनों से नकदी की समस्या से जूझ रहा है। उसके विदेशी मुद्रा भंडार में महज 8.12 अरब डॉलर बचे हैं, जो उसके सात हफ्तों के आयात का ही भुगतान कर सकते हैं।

अमेरिका व रूस ने तोड़ी अपनी द्विपक्षीय परमाणु संधि

अमेरिका ने रूस के साथ परमाणु संधि को निलंबित कर दिया है। ट्रंप प्रशासन का कहना है कि यदि रूस इंटरमीडिएट-रेंज न्यूक्लियर फोर्सेज संधि का उल्लंघ करने वाली क्रुज मिसाइलों को नष्ट नहीं करता है तो यह समझौता रद कर दिया जाएगा।

यॉर्क में बना रूसी खुफिया एजेंसी केजीबी का म्यूजियम

द्वितीय विश्व युद्ध के बाद अमेरिका और सोवियत संघ (अब रूस) में आगे निकलने की होड़ शुरू हुई। इस दौरान दोनों देशों में कोई जंग तो नहीं हुई लेकिन खुद को ज्यादा ताकतवर साबित करने वाले काम हुए। इसे शीत युद्ध (कोल्ड वॉर) नाम दिया जाता है। एक-दूसरे की अहम सूचनाओं को हासिल करने के लिए दोनों देशों की खुफिया एजेंसियों ने कई कारनामे रचे। अब न्यूयॉर्क के मैनहट्टन में रूसी खुफिया एजेंसी केजीबी का एक म्यूजियम बनाया गया है। इसमें शीतयुद्ध के दौरान केजीबी द्वारा इस्तेमाल की गई कई चीजें रखी गई हैं। म्यूजियम की मालिक एक अमेरिकन कंपनी है जो कई पुरानी-ऐतिहासिक चीजों को खरीदती है। इसी अमेरिकन कंपनी को लिथुआनिया के पिता-बेटी के शोध के बारे में पता चला। जूलियस और एग्ने ने कुछ साल पहले कॉनास (लिथुआनिया) में एक न्यूक्लियर बंकर को केजीबी म्यूजियम के रूप में बदला था। द्वितीय विश्व युद्ध में सोवियत सेनाओं द्वारा जीता गया लिथुआनिया अकेला देश था जिसे 1991 में आजादी मिली।

ग्रीनपीस ने दिल्ली और पटना के क्षेत्रीय कार्यालय बंद किए

पर्यावरण के क्षेत्र में काम करने वाले गैर सरकारी संगठन ग्रीनपीस ने पटना और नई दिल्ली स्थित अपने क्षेत्रीय कार्यालय बंद कर दिए हैं। बता दें कि इस एनजीओ को भारत में कोयले से चलने वाली बिजली परियोजनाओं के खिलाफ अभियान चलाने के लिए जाना जाता है। भारत सरकार ने इस पर 2015 में विदेशी धन लेने पर रोक लगा दी थी। वहीं पिछले साल पांच अक्टूबर को समूह के मुख्य बैंक खाते को फ्रीज कर दिया गया था। समूह ने शनिवार को जारी एक बयान में बताया कि बैंक खातों पर रोक लगाने से नई दिल्ली और पटना स्थित क्षेत्रीय कार्यालयों को बंद करना पड़ रहा है। इससे यहां काम करने वाले 60 में से 40 कर्मचारी बिल्कुल बेकार हो गए हैं। बता दें कि केंद्र में मोदी सरकार के आने के बाद से अब तक ऐसे 15,000 एनजीओ के लाइसेंस निरस्त किए जा चुके हैं जो विदेशी अंशदान विनियमन अधिनियम के तहत पंजीकृत थे।

ईरान ने क्रूज मिसाइल का सफल परीक्षण किया

1979 में हुई इस्लामिक क्रांति का जश्न मना रहे ईरान ने शनिवार को 1,350 किलोमीटर से अधिक दूरी तक मार करने वाली क्रूज मिसाइल का सफल परीक्षण करने की घोषणा की। सरकारी टीवी चैनल पर परीक्षण के दिखाए जा रहे फुटेज का हवाला देते हुए रक्षा मंत्री आमिर हतामी ने कहा, ‘होविज क्रूज मिसाइल का 1,200 किमी दूरी तक सफलतापूर्वक परीक्षण किया गया और इसने निर्धारित लक्ष्य को सटीक तरह से भेदा। इसे लड़ाई के लिए जहां कम से कम समय में तैयार किया जा सकता है वहीं यह बहुत कम ऊंचाई पर उड़ान भर सकती है।’ हतामी ने कहा कि यह क्रूज मिसाइल सोमार समूह का हिस्सा है, जिसे 2015 में शुरू किया गया था। उस समय मिसाइल की मारक क्षमता 700 किलोमीटर थी।