दैनिक समसामयिकी 05 मार्च 2019

कर्नाटक सरकार ने 2019 को “जल का वर्ष” घोषित किया

कर्नाटक सरकार ने 2019 को “जल का वर्ष” घोषित किया है। इसका उद्देश्य जल के महत्व पर प्रकाश डालना है तथा इसके संरक्षण के लिए प्रयास करना है। यह घोषणा सभी सरकारी विभागों पर लागू होगी। इसके लिए 50 करोड़ तथा 100 करोड़ रुपये के अतिरिक्त राशि आबंटित की गयी है। इसके तहत अगले दो वर्षों में राज्य में 14,000 जल स्त्रोतों को पुनर्जीवित किया जायेगा। इस पहल के तहत जल संचय व संरक्षण के लिए सरकारी विभागों, शिक्षण संस्थानों तथा गैर सरकारी संस्थाओं का उपयोग किया जायेगा।

हाल ही में कर्नाटक ने “जलामृत” नामक जल संचय योजना को लांच किया। इस योजना का उद्देश्य सूखे से बचने के लिए उपाय करना तथा जल स्त्रोतों का संरक्षण करना है। इस योजना के तहत राज्य में जल संचय के लिए वैज्ञानिक विधियों का उपयोग किया जायेगा। इसके लिए सैटेलाइट चित्रों तथा भौगोलिक डाटा का उपयोग भी किया जायेगा। यह एक सामुदायिक आन्दोलन होगा, इसका क्रियान्वयन सरकारी विभागों, पंचायती राज संस्थाओं तथा गैर-सरकारी संस्थाओं द्वारा मिलकर किया जायेगा। इस योजना के चार भाग हैं : जल साक्षरता, जल स्त्रोतों का पुनर्जीवन, नए जल स्त्रोतों का निर्माण तथा वनीकरण। इसके नियोजन तथा क्रियान्वयन के लिए ग्राम, तालुक, जिला तथा राज्य स्तर पर समितियों का गठन किया जायेगा।

ग्वालियर में दिव्यांगजनों के लिए खेल केंद्र की स्थापना की जायेगी

हाल ही में केन्द्रीय कैबिनेट ने दिव्यांगजनों के लिए मध्य प्रदेश के ग्वालियर में खेल केंद्र की स्थापना को मंज़ूरी दी। इस केंद्र से देश में पैरा-स्पोर्ट्स को बढ़ावा मिलेगा। इस केंद्र का निर्माण 170.99 करोड़ रुपये की लागत से किया जायेगा। इस केंद्र का पंजीकरण सोसाइटी पंजीकरण अधिनियम, 1860 के तहत किया जायेगा। इस केंद्र के लिए 12 सदस्यों वाली गवर्निंग बॉडी का गठन किया जायेगा। दिव्यांगजनों के अधिकार अधिनियम, 2016 के सेक्शन 30 के अनुसार सरकार को दिव्यांगजनों की खेल गतिविधियों के लिए कदम उठाने चाहिए। इस केंद्र को 2014-15 के दौरान प्रस्तावित किया गया था। वर्तमान में देश में दिव्यांग खिलाड़ियों के प्रशिक्षण के लिए कोई विशेष केंद्र नही है।

सॉफ्टवेयर उत्पादों के लिए राष्ट्रीय नीति 2019

केन्द्रीय कैबिनेट ने हाल ही में सॉफ्टवेयर उत्पादों पर राष्ट्रीय नीति 2019 को मंज़ूरी दे दी है। इस नीति का उद्देश्य भारत को सॉफ्टवेर उत्पादक देश के रूप में विकसित करना है। सॉफ्टवेयर उत्पाद विकास फण्ड तथा अनुसन्धान व नवोन्मेष फण्ड के लिए अगले सात वर्षों के लिए 1500 करोड़ रुपये आबंटित किये गये हैं। इस नीति के द्वारा भारतीय सॉफ्टवेयर उत्पाद उद्योग के निर्माण को बढ़ावा दिया जायेगा। 2025 तक वैश्विक सॉफ्टवेयर उत्पाद बाज़ार में भारत के हिस्से में 10 गुना वृद्धि करने का लक्ष्य रखा गया है।

आइडीबीआइ बैंक को मिली ईरान से लेनदेन की जिम्मेदारी

सरकार ने आइडीबीआइ बैंक को ईरान के साथ आयात-निर्यात से जुड़े लेनदेन संभालने की जिम्मेदारी दी है। ईरान पर अमेरिकी प्रतिबंधों के बीच सरकार के इस कदम से द्विपक्षीय व्यापार बढ़ाने में मदद मिलेगी। ससे पहले जब ईरान पर अमेरिका ने प्रतिबंध लगाए थे, तब रुपये में लेन-देन की जिम्मेदारी यूको बैंक को दी गई थी। भारत इससे पहले यूरोपीय बैंकिंग चैनल के जरिए यूरो में ईरान भुगतान कर रहा था, लेकिन पिछले साल नवंबर से भुगतान के ये माध्यम भी बंद हो गए।

भारतीय रिज़र्व बैंक ने बैंक ऑफ़ जापान के साथ 75 अरब डॉलर के द्विपक्षीय स्वैप अरेंजमेंट पर हस्ताक्षर किये

भारतीय रिज़र्व बैंक तथा बैंक ऑफ़ जापान ने हाल ही में 75 अरब डॉलर के द्विपक्षीय स्वैप अरेंजमेंट पर हस्ताक्षर किये। इससे देश के विदेशी मुद्रा भंडार तथा पूँजी बाज़ार में मजबूती आएगी। इस समझौते से दोनों देश अपनी मुद्राओं को स्वैप कर सकते हैं। इस समझौते की शुरुआत 29 अक्टूबर, 2018 को प्रधानमंत्री मोदी की जापान यात्रा के दौरान हुई थी।

सार्वजनिक वित्त प्रबंधन प्रणाली का सशक्तिकरण

1 मार्च को नागरिक लेखा दिवस के अवसर पर लेखा के कंट्रोलर जनरल एंथनी लिंज़ुला ने सार्वजनिक वित्त प्रबंधन प्रणाली के सशक्तिकरण के लिए दो फंक्शनलिटी लांच की – बैंकों के प्रदर्शन की मॉनिटरिंग के लिए मोबाइल एप्प, PFMS – डैशबोर्ड। बैंक मॉनिटरिंग मोबाइल एप्लीकेशन का विकास बैंकों के प्रदर्शन की मॉनिटरिंग के लिए किया गया है, यह एप्प विभिन्न मानकों पर बैंकों की मॉनिटरिंग करेगी। सार्वजनिक वित्त प्रबंधन प्रणाली (PFMS) एक वेब बेस्ड ऑनलाइन सॉफ्टवेयर एप्लीकेशन है, इसका विकास व क्रियान्वयन लेखा के कंट्रोलर जनरल कार्यालय द्वारा किया गया है।

मैकी साल को पुनः सेनेगल का राष्ट्रपति चुना गया

मैकी साल को पुनः सेनेगल का राष्ट्रपति चुना गया। उन्हें चुनाव में 58.27% मत प्राप्त हुए। सेनेगल की निर्वाचन प्रणाली के मुताबिक पहले चरण में उम्मीदवार को 50% मत मिलने के बाद मतदान के दूसरे चरण का आयोजन नहीं किया जाता है। सेनेगल अफ्रीका के पश्चिमी तट पर स्थित है। सेनेगल की आर्थिक व राजनीतिक राजधानी डकार में स्थित है। सेनेगल का क्षेत्रफल 1,96,712 वर्ग किलोमीटर है। पहले सेनेगल पुर्तगालियों का उपनिवेश था, बाद में यह फ्रांसीसियों का उपनिवेश बना। सेनेगल ने 1960 में फ्रांस से स्वतंत्रता प्राप्त की।

2022 एशियाड में क्रिकेट शामिल

2022 एशियाई खेलों में क्रिकेट के भी मुकाबले होंगे। 19वें एशियाई खेल चीन के झीजियांग प्रांत की राजधानी हांगझाऊ में 10 सितंबर 2022 से 25 सितंबर 2022 तक होंगे। भारतीय ओलिंपिक एसोसिएशन (आईओए) के महासचिव राजीव मेहता ने यह जानकारी दी है। हांगझाऊ चीन का तीसरा शहर है, जहां एशियाई खेल होंगे। इससे पहले 1990 में बीजिंग और 2010 में ग्वांगझू में एशियाई खेल हुए थे। 2022 एशियाड में पुरुष और महिला टी-20 क्रिकेट के मैच खेले जाएंगे। इस संबंध में आईओए भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) को पत्र लिखेगा। एशियाई खेलों में अब तक दो बार क्रिकेट की प्रतियोगिताएं हुईं हैं, दोनों बार भारत की पुरुष और महिला टीमों ने हिस्सा नहीं लिया था।

ऑस्ट्रेलिया ने 70 साल पुरानी डीजल ट्रेन को सोलर में बदला

ऑस्ट्रेलिया के बेरॉन बे शहर में दुनिया की पहली सोलर ट्रेन चलने लगी है। इस टूरिस्ट ट्रेन का नाम सनलाइट एक्सप्रेस है। यह बेरॉन बे शहर के 3 किमी के दायरे में चलती है। साल 1949 से इस रूट पर डीजल इंजन से ट्रेन चलती थी। बेरॉन बे रेलरोड कंपनी ने इसे दो साल में सोलर इंजन में बदला।

टाटा स्टील को उत्कृष्टता के लिए 25वीं प्रधानमंत्री ट्रॉफी

वित्त वर्ष 2016-17 के लिए टाटा स्टील, जमशेदपुर को एकीकृत इस्पात संयंत्र में उत्कृष्ट कार्य प्रदर्शन के लिए 25वीं प्रधानमंत्री ट्रॉफी प्रदान की गई है। केंद्रीय इस्पात मंत्री चौधरी बीरेंदर सिंह ने टाटा स्टील समेत एकीकृत इस्पात संयंत्रों को उनके कार्य प्रदर्शन के लिए पुरस्कार वितरित किए। ये पुरस्कार देश में एकीकृत इस्पात संयंत्रों के कार्य प्रदर्शन को मान्यता देते हैं। दूसरे श्रेष्ठ समग्र प्रदर्शन के लिए इस्पात मंत्री की ट्रॉफी एक करोड़ रूपये के नकद पुरस्कार के साथ जेएसडब्ल्यू स्टील लिमिटेड, विजयनगर को मिली।

चार बैंकों पर आरबीआइ ने लगाया 11 करोड़ रुपये जुर्माना

स्विफ्ट मैसेजिंग सॉफ्टवेयर पर भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआइ) के निर्देशों का पालन नहीं करने के कारण रिजर्व बैंक ने चार बैंकों पर कुल 11 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया है। ये चार बैंक हैं कर्नाटक बैंक, युनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया, इंडियन ओवरसीज बैंक (आइओबी) और करुर वैश्य बैंक। सबसे अधिक चार करोड़ रुपये का जुर्माना कर्नाटक बैंक पर लगाया गया। युनाइटेड बैंक और आइओबी दोनों पर तीन-तीन करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया गया और करुर वैश्य बैंक पर एक करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया गया।

रूस ने आइएनएफ हथियार समझौता निलंबित किया

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने सोमवार को शीत युद्धकाल में अमेरिका के साथ हुए हथियार समझौते से पैर पीछे खींच लिए। उन्होंने आइएनएफ समझौते में रूसी भागीदारी को अनिश्चित काल के लिए निलंबित कर दिया। अमेरिका पहले ही रूस पर समझौते के विरुद्ध कार्य करने का आरोप लगाकर साङोदारी से बाहर निकल चुका है। इस प्रकार से दुनिया को शीत युद्धकाल से बाहर लाने वाला दो महाशक्तियों के बीच का आइएनएफ हथियार समझौता अब बेमानी हो गया है।

फ्रांस ने सुरक्षा परिषद में भारत की स्थायी सदस्यता का किया समर्थन

आतंकी संगठन जैश-ए-मुहम्मद के सरगना मसूद अजहर पर प्रतिबंध लगाने का प्रस्ताव लाने के बाद फ्रांस ने अब संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में भारत की स्थायी सदस्यता का समर्थन दोहराया है। उसने कहा कि सुरक्षा परिषद का विस्तार जरूरी है। बता दें कि भारत लंबे समय से ब्राजील, जर्मनी और जापान के साथ मिलकर सयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में सुधार की मांग कर रहा है और इस बात पर जोर दे रहा है कि ये देश इस प्रभावशाली वैश्विक संस्था के स्थायी सदस्य बनने के हकदार हैं।

चीन अंतरिक्ष में स्थापित करेगा सोर ऊर्जा संयंत्र

इन दिनों चीन अन्तरिक्ष में अपना एक बहुत बड़ा सोलर प्लांट लगाने जा रहा है। जिसके जरिए बड़ी मात्रा में बिजली का उत्पादन किया जा सकेगा। वैज्ञानिकों के अनुसार अगर यह प्रयोग सफल रहा तो चीन सहित दुनिया के बाकी लोगों के लिए यह एक बड़ी उपलब्धि साबित होगी। इस सोलर प्लांट के जरिये इतनी बिजली बनायी जा सकती है, जो लगभग एक पूरे शहर को रोशन करने के लिए काफी होगी। हालांकि इस प्रोजेक्ट में पर्यावरण प्रदूषण एवं ग्लोबल वार्मिंग जैसे खतरों की संभावनाएं भी बहुत ज्यादा हैं क्योंकि इस पूरी प्रक्रिया में माइक्रोवेव या फिर लेज़र के माध्यम से ऊर्जा को अंतरिक्ष से नीचे भेजा जाएगा।

49 दिन से चल रहा कुंभ सम्पन्न

दुनिया के सबसे अनूठे और बड़े आध्यात्मिक पर्व कुंभ में आज महाशिवरात्रि का अंतिम स्नान है। इसके साथ ही 49 दिनों तक चलने वाला मेला संपन्न हो गया। रात 12 बजते ही श्रद्धालुओं ने संगम में डुबकी लगाकर सुख समृद्धि की कामना की। 15 जनवरी से शुरू हुए कुंभ में तीन मार्च तक 22.95 करोड़ लोग स्नान कर चुके हैं।