दैनिक समसामयिकी 06 अक्टूबर 2018

यौन हिंसा रोकने के लिए कॉन्गो के डेनिस और इराक की नादिया को शांति का नोबेल

शांति का नोबेल इस साल काॅन्गो के डेनिस मुकवेज और नादिया मुराद को दिया जाएगा। शुक्रवार को नोबेल नॉर्विजियन कमेटी ने इसका ऐलान किया। युद्ध के दौरान होने वाले यौन हिंसा की रोकथाम के प्रयास के लिए डेनिस और नादिया को इस अवॉर्ड के लिए चुना गया।

विराट का 24वां शतक, ब्रैडमैन के बाद सबसे कम पारियों में छुआ यह आंकड़ा

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने वेस्टइंडीज के खिलाफ पहले टेस्ट के दूसरे दिन अपना 24वां टेस्ट शतक पूरा किया। सबसे कम टेस्ट और पारियां खेलकर 24 शतक बनाने के मामले में वे दूसरे नंबर पर पहुंच गए। उन्होंने 72वें टेस्ट की 123वीं पारी में यह उपलब्धि हासिल कर सचिन तेंडुलकर को पीछे छोड़ा। सचिन ने 80वें टेस्ट की 125वीं पारी में अपना 24वां शतक पूरा किया था। इस मामले में ऑस्ट्रेलिया के डॉन ब्रैडमैन शीर्ष पर हैं। ब्रैडमैन ने 43वें टेस्ट की 66वीं पारी में ही अपने शतकों की संख्या 24 कर ली थी।

चीन के लिए रवाना हुए इंटरपोल के अध्यक्ष मेंग होंगवेई लापता

इंटरपोल के अध्यक्ष मेंग होंगवेई (64) के लापता होने की खबर सामने आई है। लापता होने से पहले मेंग होंगवेई चीन के लिए रवाना हुए थे। घटना की जानकारी लगने के बाद फ्रांस सरकार ने मामले की जांच शुरू कर दी है। आपको बता दें कि इंटरपोल का हेड क्वार्टर फ्रांस के लियॉन शहर में है। इंटरपोल दुनियाभर में अपराध से जुड़े मामलों में सख्त कार्रवाई के लिए जाना जाता है। ऐसे में इंटरपोल के अध्यक्ष का चीनी यात्रा के दौरान गायब होना बड़े मायने रखता है।

फसल बीमा भुगतान में देरी पर लगेगा जुर्माना

खेती को जोखिम से बचाने वाली प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में कई प्रावधानों पर किसानों की आपत्ति के बाद उसमें व्यापक संशोधन किए गए हैं। इनको एक अक्टूबर 2018 से लागू कर दिया गया है। इसमें पहली बार बागवानी क्षेत्र की बारहमासी फसलों को भी प्रायोगिक तौर पर इसके दायरे में लाया गया है। इसके पहले केवल मौसम आधारित फसलें ही बीमा योजना में शामिल थीं। साथ ही इसमें बीते सात वर्षो में से सर्वश्रेष्ठ पांच वर्षो की उपज के आंकड़ों के आधार पर गणना का प्रावधान किया गया है। बीमा कंपनी को भुगतान में देरी पर 12 फीसद की दर से वार्षिक ब्याज देना होाा।

दक्षिण कोरिया के पूर्व राष्ट्रपति ली बेक को 15 साल की जेल

दक्षिण कोरिया की एक अदालत ने पूर्व राष्ट्रपति ली म्युंग बेक को भ्रष्टाचार के मामले में 15 साल जेल की सजा सुनाई है। उन पर 1.15 करोड़ डाॅलर का जुर्माना भी लगाया गया है। ली भ्रष्टाचार के मामले में जेल जाने वाले दक्षिणी कोरिया के चौथे राष्ट्रपति हैं।

भारतीय रिजर्व बैंक ने फेडरल बैंक पर 5 करोड़ रुपए का जुर्माना लगाया

भारतीय रिजर्व बैंक ने नियमों की अनदेखी के लिए फेडरल बैंक पर 5 करोड़ रुपए का जुर्माना लगाया है. यह जानकारी भारतीय रिजर्व बैंक ने दी.

रिजर्व बैंक ने फेडरल बैंक पर यह जुर्माना बड़े कर्ज लेने वाले के बारे में रिपोर्ट करने में चूक और ग्राहकों को मुआवजे का भुगतान नहीं करने और अन्य उल्लंघनों के लिए लगाया गया है.

फेडरल बैंक पर जुर्माना क्यों लगा?

भारतीय रिजर्व बैंक के अनुसार, फेडरल बैंक ने बड़े कर्ज को लेकर केंद्रीय रिपॉजिटरी पर रिपोर्टिंग संबंधी नियमों का अनुपालन नहीं किया है. यह एक बड़ी चूक है. इसके अलावा फेडरल बैंक जोखिम आधारित निगरानी आकलन के संबंध में रिजर्व बैंक को रिपोर्ट नहीं कर पाया है. साथ ही बैंक ने एटीएम संबंधित शिकायतों का निपटारा करने में होने वाली देरी के लिए दिए जाने वाला जुर्माना भी नहीं दिया है. इसके अलावा बैंक केवाईसी और मनी लांड्रिंग रोकने के लिए बनाए गए नियमों का पालन करने में असफल रहा है.

अन्य बैंक पर भी लगाया जा चुका है जुर्माना:

करूर वैश्य बैंक पर भी लगाया जा चुका है जुर्माना इससे पहले आरबीआई प्राइवेट क्षेत्र के बैंक करूर वैश्य बैंक पर भी 5 करोड़ रुपए का जुर्माना लगा चुका है. आरबीआई ने इस बैंक पर जरूरी निर्देश नहीं मानने पर यह जुर्माना लगाया है.

इसके अलावा आरबीआई ने बीते सप्ताह ही प्राइवेट सेक्टर के बंधन बैंक पर लाइसेंसिंग शर्तों का पालन नहीं करने पर कार्रवाई की थी. केंद्रीय बैंक ने बंधन बैंक पर नई शाखाएं खोलने से रोकने के अलावा बैंक के एमडी और सीईओ के सैलरी खाते फ्रीज करने का आदेश दिया था.

भारतीय रिजर्व बैंक ने यूनियन बैंक आफ इंडिया पर धोखाधड़ी पकड़ने और उसके बारे में रिपोर्ट करने में देरी को लेकर एक करोड़ रुपए का जुर्माना लगाया था. यूनियन बैंक आफ इंडिया की ओर से जारी रिजर्व बैंक ने हमारे ऊपर धोखाधड़ी पकड़ने और उसके बारे में रिपोर्ट करने में विलंब को लेकर एक करोड़ रुपए का जुर्माना लगाया.

भारत और एडीबी ने मध्य प्रदेश के गांवों में कनेक्टिविटी बेहतर करने हेतु 110 मिलियन डॉलर के ऋण समझौते पर हस्तारक्षर किए

भारत और एशियाई विकास बैंक (एडीबी) ने 05 अक्टूबर 2018 को प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क कार्यक्रम (पीएमजीएसवाई) के तहत मध्‍य प्रदेश में 2,800 किलोमीटर लम्‍बी बारहमासी ग्रामीण सड़कों के उन्‍नयन के वित्‍त पोषण के लिए आज 110 मिलियन डॉलर के ऋण समझौते पर हस्‍ताक्षर किए.

द्वितीय ग्रामीण कनेक्टिविटी निवेश कार्यक्रम पर भारत सरकार की ओर से वित्‍त मंत्रालय के आर्थिक मामलों के विभाग में अपर सचिव समीर कुमार खरे और एडीबी की ओर से एडीबी के भारत निवासी मिशन के कंट्री डायरेक्‍टर केनिची योकोयामा ने हस्‍ताक्षर किए.