दैनिक समसामयिकी 07 अगस्त 2019

पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का निधन

पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज (67) का निधन हो गया। निधन से 3 घंटे पहले सुषमा ने एक ट्वीट में कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बधाई दी थी। इसमें उन्होंने लिखा था- जीवन में इसी दिन की प्रतीक्षा कर रही थी। हरियाणा के अंबाला से राजनीतिक सफर शुरू करने वाली सुषमा स्वराज का दिल्ली से गहरा नाता रहा है। वह दिल्ली की मुख्यमंत्री के पद पर पहुंचने वाली पहली महिला थीं। 2014 से 2019 तक वे विदेश मंत्री रहीं और दुनियाभर में भारतीयों को उन्होंने एक ट्वीट पर मदद मुहैया कराई। उन्होंने स्वास्थ्य कारणों के चलते 2019 का लोकसभा चुनाव नहीं लड़ने का फैसला किया था।

जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन बिल 2019 लोक सभा में भी पास

गृह मंत्री अमित शाह ने यहाँ लोकसभा में जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के लिये जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन बिल 2019 के अंतर्गत दो संकल्प और एक बिल विचार तथा पारित करने के लिए प्रस्तुत किये-

  1. 370 (1) के प्रावधानों के अनुसार जम्मू और कश्मीर के लिए संविधान का अध्यादेश।
  2. 370 (3) के अनुसार 370 को खत्म करने का संकल्प
  3. जम्मू और कश्मीर के पुनर्गठन के लिए विधेयक

अनुच्छेद 370 व 35ए को समाप्त करने के दो प्रस्तावों और जम्मू-कश्मीर राज्य पुनर्गठन विधेयक पर संसद की मुहर लगते ही जम्मू-कश्मीर और लद्दाख दोनों केंद्र शासित प्रदेश बन गए हैं। इस पर केवल राष्ट्रपति का हस्ताक्षर होना बाकी है। क्षेत्रफल के हिसाब से जम्मू-कश्मीर देश का सबसे बड़ा केंद्र शासित प्रदेश होगा, जबकि लद्दाख क्षेत्रफल के आधार पर देश का दूसरा सबसे केंद्र शासित प्रदेश होगा। इससे पहले राज्यसभा ने कल ही इस बिल को पारित कर दिया था।

कोसी-मेची नदी अंतःक्षेपण परियोजना को मंजूरी

केंद्र ने बिहार में एक कोसी-मेची नदी अंतःक्षेपण परियोजना को मंजूरी दी है। परियोजना की अनुमानित लागत 4,900 करोड़ रुपये है। इस परियोजना से उत्तर बिहार के अररिया, किशनगंज, पूर्णिया और कटिहार जिलों में फैले हुए 2.14 लाख हेक्टेयर से अधिक क्षेत्र में सिंचाई होगी। यह मध्य प्रदेश के केन-बेतवा के बाद भारत की दूसरी बड़ी नदी जोड़ने वाली परियोजना है।

महिला और बाल विकास मंत्री बीबीबीपी योजना के अंतर्गत राज्‍यों और जिलों को सम्‍मानित करेंगी

महिला और बाल विकास मंत्रालय देश में बेटी बचाव बेटी पढ़ाओ (बीबीबीपी) योजना सफलतापूर्वक लागू करने वाले जिलों और राज्‍यों को सम्‍मानित और पुरस्‍कृत करने के लिए 7 अगस्‍त, 2019 को नई दिल्‍ली में एक कार्यक्रम का आयोजन कर रहा है। 2014-15 तथा 2018-19 के लिए राज्‍यवार व जन्‍म के समय लिंग अनुपात पर आई ताजा रिपोर्ट में बताया गया है कि जन्‍म के समय लिंग अनुपात 918 से बढ़कर 931 हुआ है जो राष्‍ट्रीय स्‍तर पर सुधार का संकेत देता है।

5वां राष्ट्रीय हथकरघा दिवस 7 अगस्त

5वां राष्ट्रीय हथकरघा दिवस 7 अगस्त को देश भर में मनाया जाएगा। केन्द्रीय वस्त्र और महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती स्मृति जुबिन इरानी इस अवसर पर नई दिल्ली के विज्ञान भवन में आयोजित कार्यक्रम की अध्यक्षता करेंगी। मुख्य आयोजन ओड़िशा के भुवनेश्वर में होगा। हथकरघे की समृद्ध परंपरा के कारण भुवनेश्वर को मुख्य आयोजन स्थल के रूप में चुना गया है। भारत के बुनकरों की 50 प्रतिशत से ज्यादा आबादी पूर्वी और पूर्वोत्तर क्षेत्रों में बसती है और इनमें से अधिकांश महिलाएं हैं। भुवनेश्वर में राष्ट्रीय हथकरघा दिवस मनाने का उद्देश्य महिलाओं और बालिकाओं को सशक्त बनाना है। राष्ट्रीय हथकरघा दिवस देश के हथकरघा बुनकरों का सम्मान करने और भारत के हथकरघा उद्योग पर रौशनी डालने के लिए हर साल 7 अगस्त को मनाया जाता है। राष्ट्रीय हथकरघा दिवस देश के सामाजिक आर्थिक विकास में हथकरघे के योगदान और बुनकरों की आमदनी में वृद्धि करने पर ध्यान केन्द्रित करने का प्रयास करता है। प्रथम राष्ट्रीय हथकरघा दिवस का उद्घाटन प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने 7 अगस्त, 2015 को चेन्नई में मद्रास विश्वविद्यालय की शताब्दी के अवसर पर किया था।

उदयपुर में आयोजित होगा देश का सबसे बड़ा शिक्षा विचार मंथन कार्यक्रम

भारत के सबसे बड़े शिक्षा विचार मंथन कार्यक्रम का तीसरा संस्करण, ScooNews ग्लोबल एजुकेटर्स फेस्ट (SGEF) झीलों के शहर, उदयपुर में आयोजित किया जाएगा। यह 500 से अधिक शिक्षकों को एक साथ लाकर भारत को अगले वैश्विक शिक्षा महाशक्ति के रूप में स्थापित करने की दिशा में चर्चा करेगा।

महाराष्ट्र ने खेल के लिए लांच किया “मिशन शक्ति”

फिल्म अभिनेता आमिर खान ने महाराष्ट्र सरकार की “मिशन शक्ति” नामक पहल को लांच किया, इसका उद्देश जनजातीय क्षेत्रों के खिलाड़ियों को अंतर्राष्ट्रीय स्पर्धाओं के लिए प्रशिक्षण प्रदान करना है। इस पहल से महाराष्ट्र सरकार को चंद्रपुर और गढ़चिरोली जैसे क्षेत्रों से प्रतिभाशाली खिलाड़ी मिस सकेंगे। इस इवेंट के दौरान आमिर खान ने “मिशन शौर्य” के तहत माउंट एवेरेस्ट की चढ़ाई करने वाले जनजातीय पर्वतारोहियों को सम्मानित किया।

अरुणाचल प्रदेश के गृह राज्यमंत्री ने दंगा नियंत्रक वाहन ‘वज्र’ को दी हरी झंडी

अरुणाचल प्रदेश के गृह राज्यमंत्री बमांग फेलिक्स ने इटानगर में पुलिस मुख्यालय से 5 दंगा विरोधी पुलिस वाहन(Anti-Riot police vehicle) को हरी झंडी दिखाई, जिसे वज्र के रूप में भी जाना जाता है। वज्र में त्वरित प्रतिक्रिया के साथ विशेष सुविधा हैं, आंसू गैस के लिए स्वत: मल्टी-बैरल लांचर, 12 व्यक्तियों की क्षमता और दंगाई भीड़ में लंबे समय तक बैटरी बैकअप के साथ है।

हरियाणा में संगठित अपराध पर अब होगी फांसी की सजा

संगठित अपराध से निपटने के लिए हरियाणा ने महाराष्ट्र के मकोका (महाराष्ट्र संगठित अपराध नियंत्रण अधिनियम) की तर्ज पर हरकोका (हरियाणा संगठित अपराध नियंत्रण अधिनियम) कानून बनाया है। संगठित अपराध के मामलों में किसी की मौत पर आरोपित को उम्रकैद से लेकर फांसी और न्यूनतम एक लाख रुपये के दंड का प्रावधान इस कानून में है। इस कानून में आरोपित को जमानत का प्रावधान नहीं है। यह सख्त कानून अभी तक महाराष्ट्र के अलावा केवल दिल्ली में ही लागू है।

मोहाली में 3-डी स्मार्ट ट्रैफिक सिग्नल लॉन्च

मोहाली ट्रैफिक पुलिस ने चंडीगढ़ विश्वविद्यालय के छात्रों द्वारा तैयार 3-डी स्मार्ट ट्रैफिक सिग्नल लॉन्च किया है। ‘इंटेलिजेट्स‘ नामक वायरलेस सिस्टम को पायलट प्रोजेक्ट आधार पर, एयरपोर्ट रोड के पास ट्रैफिक क्रॉसिंग पर स्थापित किया गया है, और एक स्मार्ट बर्ड की आई व्यू वायरलेस सेंसर सिस्टम के साथ ट्रैफिक सिग्नल को नियंत्रित करेगा। नई प्रणाली में सेंसर होंगे जो स्वचालित रूप से उस विशेष पक्ष से आने वाले वाहनों की संख्या के आधार पर हरे और लाल संकेतों पर स्विच करेंगे।

ई- गवर्नेंस 2019 पर 22वां राष्ट्रीय सम्मेलन 8-9 अगस्त, 2019 को शिलांग में आयोजित होगा

प्रशासनिक सुधार एवं लोक शिकायत विभाग (डीएआरपीजी) इलेक्ट्रानिक एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय, भारत सरकार और मेघालय सरकार के साथ मिलकर 8-9 अगस्त, 2019 को शिलांग, मेघालय में ई- गवर्नेंस 2019 पर 22वें राष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन करेगा। सम्मेलन का विषय “डिजिटल भारत : सफलता से उत्कृष्टता” है।

रक्षा राज्‍य मंत्री श्री श्रीपद येसो नाइक ने माउंट एल्ब्रुस को फतह करने के लिए पर्वतारोहण अभियान दल को झंडी दिखाकर रवाना किया

रक्षा राज्‍य मंत्री श्री श्रीपद येसो नाइक ने नई दिल्‍ली में रूस स्थित माउंट एल्‍ब्रुस पर चढ़ने के‍ लिए दार्जिलिंग स्थित हिमालयन पर्वतारोहण संस्थान (एचएमआई) के एक अभियान दल को झंडी दिखाकर रवाना किया। एचएमआई के प्रिंसिपल ग्रुप कैप्‍टन जयकिशन की अगुवाई में 8 प्रोफेशनल पर्वतारोहियों के अभियान दल ने 15 अगस्‍त, 2019 को यूरोपीय महाद्वीप की सबसे ऊंची चोटी माउंट एल्‍ब्रुस को फतह करने और 73वें स्‍वतंत्रता दिवस पर इस पर्वत पर भारत के राष्‍ट्रीय ध्‍वज को फहराने की योजना बनाई है।

IIS अधिकारियों का दूसरा अखिल भारतीय वार्षिक सम्मेलन

भारतीय सूचना सेवा अधिकारियों का दूसरा अखिल भारतीय वार्षिक सम्मेलन नई दिल्ली में आयोजित किया गया। सम्मेलन का आयोजन सूचना और प्रसारण मंत्रालय के तहत सभी मीडिया इकाइयों के अधिक से अधिक एकीकरण को प्राप्त करने के उद्देश्य से किया गया था ताकि सरकारी संचार को और बढ़ाया जा सके। सूचना और प्रसारण मंत्रालय के तहत मीडिया इकाइयों की प्रदर्शन समीक्षा भी सम्मेलन के दौरान आयोजित की गई थी।

लोकसभा ने पारित किया सर्वोच्च न्यायालय (न्यायधीशों की संख्या) संशोधन बिल, 2019

लोकसभा ने सर्वोच्च न्यायालय (न्यायधीशों की संख्या) संशोधन बिल, 2019 पारित किया। इस बिल के द्वारा सर्वोच्च न्यायालय में न्यायधीशों की संख्या को 30 से बढ़ाकर 33 (मुख्य न्यायधीश के अतिरिक्त) किया जायेगा। इस बिल के द्वारा सर्वोच्च न्यायालय (न्यायधीशों की संख्या) अधिनियम, 1956 में संशोधन किया जायेगा। भारत के मुख्य न्यायधीश रंजन गोगोई ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को पत्र लिखकर सर्वोच्च न्यायालय में न्यायधीशों की संख्या में वृद्धि करने की मांग की थी। अपने पत्र में मुख्य न्यायधीश ने कहा था कि न्यायालय के कुशल संचालन तथा शीघ्र न्याय प्रदान करने के लिए न्यायधीशो की संख्या में बढ़ोत्तरी करना ज़रूरी है। सर्वोच्च न्यायालय में न्यायधीशों की संख्या को संविधान के अनुच्छेद 124(1) के द्वारा निश्चित किया गया है। इस संख्या में संसदीय विधेयक के द्वारा वृद्धि की जा सकती है। इसके लिए संसद ने सर्वोच्च न्यायालय (न्यायधीशों की संख्या) अधिनियम, 1956 लागू किया था। शुरू में सर्वोच्च न्यायालय में न्यायधीशों की संख्या 10 (मुख्य न्यायधीश के अतिरिक्त) थी। इस अधिनियम अंतिम बार 2009 में संशोधन किया गया था, 2009 में सर्वोच्च न्यायालय के न्यायधीशों की संख्या को 25 से बढ़ाकर 30 (मुख्य न्यायधीश के अतिरिक्त) कर दिया गया था।

गुलबर्गा के सबसे कम उम्र के डॉक्टर डॉ. विनायक एस हिरमथ को ‘प्राइड ऑफ नेशन अवार्ड’ से सम्मानित किया गया

कर्नाटक के गुलबर्गा (कालाबुरागी) के सबसे कम उम्र के डॉक्टर 30 वर्ष के डॉ. विनायक एस हीरमठ को ‘प्राइड ऑफ नेशन अवार्ड ’से सम्मानित किया गया। उन्होंने कारगिल विजय दिवस (26 जुलाई) के अवसर पर नई दिल्ली में एनसीसी (राष्ट्रीय कैडेट कोर) सभागार परेड मैदान में आयोजित समारोह में भारत के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से एक पुरस्कार प्राप्त किया।

अमेरिका ने चीन को दिया करेंसी मैनिपुलेटर लेबल

अमेरिका ने चीन पर व्यापार में अनुचित प्रतिस्पर्धा का फायदा उठाने के लिए अपनी मुद्रा युआन को जान बूझकर कमजोर करने का आरोप लगाया है और चीन को करेंसी मैनिपुलेटर्स की सूची में डाल दिया है। लेकिन चीन ने इसका पुरजोर विरोध किया है। चीन की करेंसी युआन में भारी गिरावट आने पर वाशिंगटन की तीखी प्रतिक्रिया आई थी।

भारत दुनिया का 46 वाँ सबसे अधिक जोखिम वाला देश है: वाटर स्ट्रेस इंडेक्स 2019

वाटर-स्ट्रेस इंडेक्स 2019(Water Stress Index 2019) के अनुसार, भारत दुनिया का 46 वाँ सबसे अधिक जोखिम वाला देश है, जिसे लंदन स्थित रिस्क एनालिटिक्स फर्म वेरिस्क मैपलक्रॉफ्ट ने बनाया है। इसने घरों, उद्योगों और कृषि क्षेत्रों की जल खपत दर, नदियों, झीलों और नदियों में उपलब्ध संसाधनों को मापा। वॉटर स्ट्रेस इंडेक्स (Water Stress Index) के अनुसार, देश के 20 बड़े शहरों में से 11 जल संकट की खतरनाक स्थिति का सामना कर रहे हैं। इंडेक्स के अनुसार, देश की राजधानी दिल्ली सहित चेन्नई, बेंगलुरु, हैदराबाद, नासिक, जयपुर, अहमदाबाद और इंदौर जैसे देश के अन्य बड़े शहर ‘अत्यधिक जोखिम’ वाली श्रेणी में शामिल हैं।

गंभीर जल संकट का सामना कर रहे भारत समेत 17 देश

भारत समेत दुनिया के 17 देश इस समय गंभीर जल संकट का सामना कर रहे हैं। द वल्र्ड रिसोर्स इंस्टीट्यूट (डब्ल्यूआरआइ) ने अपनी एक रिपोर्ट में इस खतरे के प्रति आगाह किया है। डब्ल्यूआरआइ ने पानी की कमी, बाढ़ और सूखे के खतरे के आधार पर 189 देशों व उनके प्रांतों को अपनी सूची में अलग-अलग स्थान पर रखा है। जल संकट के मामले में भारत 13वें स्थान पर है। भारत के लिए इस मोर्चे पर चुनौती बड़ी है क्योंकि उसकी आबादी जल संकट का सामना कर रहे अन्य 16 देशों से तीन गुना ज्यादा है।

फ़ास्ट रेडियो बर्स्ट का पता लगाने के लिए कृत्रिम बुद्धिमत्ता

वैज्ञानिकों ने एक ऐसा सिस्टम विकसित किया है जो आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस (एआइ) की मदद से अंतरिक्ष में फास्ट रेडियो बस्र्ट (एफआरबीएस) यानी तीव्र रेडियो तरंगों के फटने या गुजरने का सटीक पता लगा सकता है। ऑस्ट्रेलिया की स्वाइनबर्न प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं ने कहा कि एफआरबीएस अंतरिक्ष में गुजरने वाली रहस्यमयी और शक्तिशाली प्रकाश की किरणों हैं, जो महज कुछ ही मिली सेकंड तक ही प्रभावी रहती हैं और इसी कारण आज तक यह खगोल विज्ञानियों के लिए सबसे बड़ी पहेलियों में से एक है। पृथ्वी से अरबों प्रकाश वर्ष की दूर इनकी उत्पत्ति होती है। इसलिए इनकी उत्पत्ति का सटीक पूर्वानुमान लगा पाना मुश्किल होता है।

रिलायंस-बीपी मिलकर खोलेंगी 5,500 पेट्रोल पंप

मुकेश अंबानी नियंत्रित रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआइएल) ने ईंधन के रिटेल कारोबार के लिए ब्रिटेन की दिग्गज पेट्रोलियम कंपनी बीपी पीएलसी के साथ एक नया संयुक्त उद्यम बनाने का एलान किया है। इसके तहत दोनों कंपनियां मिलकर देशभर में एक रिटेल सर्विस स्टेशन नेटवर्क और विमानन ईंधन (एटीएफ) कारोबार स्थापित करेंगी। आरआइएल के चेयरमैन व एमडी मुकेश अंबानी और बीपी के ग्रुप चीफ एक्जीक्यूटिव बॉब डुडले ने इस उद्यम के समझौते पर हस्ताक्षर किए। आरआइएल और बीपी का उपक्रम देशभर में 1,400 से अधिक स्थानों पर आरआइएल के वर्तमान पेट्रोल पंप शामिल करेगा। इस उपक्रम का लक्ष्य अगले पांच वषों में पेट्रोल पंप की संख्या 5,500 से अधिक पर पहुंचाना है। संयुक्त उपक्रम में आरआइएल का एटीएफ कारोबार भी शामिल होगा।

बैक्टीरिया का पता लगाने को बनाई किट

भारतीय प्रोद्यौगिकी संस्थान (आइआइटी) गुवाहाटी के शोधकर्ताओं ने एक ऐसी सस्ती और हाथों में पकड़ने योग्य डिवाइस विकसित की है, जो सेल कल्चर और माइक्रोबायोलॉजिकल जांच के बिना भी आसानी से बैक्टीरिया का पता लगा सकती है। विज्ञान पत्रिका ‘मैटेरियल्स केमिस्ट्री ए’ में प्रकाशित शोध के अनुसार, यह उपकरण बैक्टीरिया का तेजी से पता लगाने में सक्षम है। इससे न केवल स्वास्थ्य सेवा के क्षेत्र में लाभ मिल सकता है, बल्कि बायोटेरेरिज्म यानी जीवाणुओं के आंतक से निपटने के साथ-साथ पर्यावरण की निगरानी करने में भी मदद मिल सकती है।

वैज्ञानिकों ने बनाया त्वचा कैंसर के लिए नैनो टीका

वैज्ञानिकों ने त्वचा कैंसर के सर्वाधिक गंभीर प्रकार मेलानोमा का एक प्रभावी नैनो टीका ईजाद किया है। इजरायल की तेल अवीव यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिकों द्वारा विकसित इस टीके को चूहों पर कारगर पाया गया है।

एडलवाइस टोकियो लाइफ ने बीमा समाधान पेश करने के लिए मोबिक्विक के साथ भागीदारी की

मोबेलविक के ग्राहकों के लिए मोबाइल आधारित बीमा समाधान की पेशकश करने के लिए एडलवाइस टोकियो लाइफ इंश्योरेंस ने मोबिक्विक के साथ समझौता किया।

वित्त मंत्रालय ने दक्षिण कोरिया से पीटीए आयात पर एंटी डंपिंग ड्यूटी लगाई

केंद्रीय वित्त मंत्रालय ने दक्षिण कोरिया और थाईलैंड से शुद्ध Terephthalic Acid (PTA) के सभी आयातों पर निश्चित एंटी-डंपिंग शुल्क लगाया। PTA पॉलिएस्टर चिप्स के निर्माण में एक प्राथमिक कच्चा माल है, जिसका उपयोग कपड़ा, पैकेजिंग, साज-सामान, उपभोक्ता वस्तुओं, रेजिन और कोटिंग्स में कई अनुप्रयोगों में किया जाता है।

NIIF में निवेश करेंगे आस्ट्रेलियनसुपर और ओंटारियो टीचर्स

आस्ट्रेलियनसुपर और ओंटारियो टीचर्स पेंशन प्लान, नेशनल इनवेस्टमेंट एंड इंफ्रास्ट्रक्चर फंड (NIIF) मास्टर फंड में $ 1 बिलियन का निवेश करेंगे। समझौतों में मास्टर फंड में प्रत्येक के लिए $ 250 मिलियन की प्रतिबद्धता और फंड के साथ भविष्य के अवसरों में $ 750 मिलियन तक के सह-निवेश अधिकार शामिल हैं। राष्ट्रीय निवेश और इन्फ्रास्ट्रक्चर कोष भारत का पहला संप्रभु समृद्धि कोष (sovereign wealth fund ) है जिसे फरवरी 2015 में भारत सरकार द्वारा स्थापित किया गया था। यह तीन कोषों में 4 अरब डॉलर से अधिक की पूंजी प्रतिबद्धताओं का प्रबंधन करता है। फंड भारत में मुख्य बुनियादी ढांचा क्षेत्रों में परिवहन, ऊर्जा और शहरी बुनियादी ढांचे पर ध्यान देने के साथ इक्विटी पूंजी में निवेश करता है। आस्ट्रेलियनसुपर, ऑस्ट्रेलिया का सबसे बड़ा सुपरनेशन फंड है और ओंटारियो टीचर्स पेंशन प्लान कनाडा का सबसे बड़ा एकल पेशा पेंशन प्लान है। आस्ट्रेलियनसुपर और ओन्टेरियो शिक्षक भी नेशनल इनवेस्टमेंट एंड इंफ्रास्ट्रक्चर फंड लिमिटेड के शेयरधारक बन जाएंगे।

विनेश फोगट ने पोलैंड ओपन रेसलिंग टूर्नामेंट में 53 किलोग्राम भारवर्ग में स्वर्ण पदक जीता

हाल ही में भारतीय महिला पहलवान विनेश फोगट ने पोलैंड ओपन रेसलिंग टूर्नामेंट में 53 किलोग्राम भारवर्ग में स्वर्ण पदक जीता। उन्होंने फाइनल में पोलैंड की रोकसाना को 3-2 से पराजित किया। यह 53 किलोग्राम भारवर्ग में विनेश फोगट को लगातार तीसरा स्वर्ण पदक है। सितम्बर, 2019 में विनेश फोगट कजाखस्तान के नूरसुल्तान में वर्ल्ड चैंपियनशिप में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगी। विनेश फोगट का जन्म 25 अगस्त, 1994 को हरियाणा के भिवानी जिले में हुआ था।

थाईलैंड ओपन 2019 बैडमिंटन प्रतियोगिता के विजेताओं की पूर्ण सूची

थाईलैंड ओपन 2019 बैडमिंटन प्रतियोगिता का आयोजन थाईलैंड में 30 जुलाई से 4 अगस्त, 2019 के दौरान किया गया, इस प्रतियोगिता की कुल इनामी राशि 3,50,000 डॉलर है।
विजेताओं की सूची

  • पुरुष युगल वर्ग : सात्विकसाईंराज रंकीरेड्डी तथा चिराग शेट्टी (भारत)
  • पुरुष एकल वर्ग : चाऊ तिएन चेन (चीनी तायपेई)
  • महिला युगल वर्ग : शिहो तनाका तथा कोहरू योनेमोतो ((जापान)
  • महिला एकल वर्ग : चेन युफेई (चीन)
  • मिश्रित युगल वर्ग : हुआंग दोंगपिंग तथा वांग यिलू (चीन)

भारतीय शटलर सात्विक साइराज रंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी की जोड़ी ने पहला थाईलैंड ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट खिताब जीता। मेन्स डबल्स के फाइनल में दोनों ने चीन की वर्ल्ड चैम्पियन जोड़ी ली जुन हुई और लियू यू चेन को 21-19, 18-21, 21-18 से हराया। इस टूर्नामेंट को जीतने वाली यह पहली भारतीय जोड़ी है।

रविचंद्रन अश्विन PCA प्लेयर ऑफ़ द मन्थ

भारतीय ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन को पेशेवर क्रिकेटर्स एसोसिएशन के खिलाड़ी के रूप में जुलाई 2019 के महीने के लिए नामित किया गया है। काउंटी चैंपियनशिप में उनके लगातार प्रदर्शन के लिए नामित किया गया है क्योंकि उन्होंने 197 रन बनाए और नॉटिंघमशायर के लिए सिर्फ 3 मैचों में 23 विकेट लिए।

अरुण लाल को CAB ने लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड से सम्मानित किया

पूर्व भारतीय क्रिकेटर तथा बंगाल के कप्तान अरुण लाल को CAB (क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ़ बंगाल) द्वारा हाल ही में कार्तिक बोस लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड से सम्मानित किया गया। 63 वर्षीय अरुण लाल ने भारत के लिए 1982 से 1989 के बीच 16 टेस्ट मैच तथा 13 अंतर्राष्ट्रीय एकदिवसीय मैच खेले हैं।

दक्षिण अफ्रीकी गेंदबाज़ डेल स्टेन ने टेस्ट क्रिकेट से सन्यास की घोषणा की

दक्षिण अफ्रीका के महान गेंदबाज़ डेल स्टेन ने टेस्ट क्रिकेट से सन्यास की घोषणा की है, हालांकि वे एकदिवसीय तथा टी-20 मैच खेलते रहेंगे। स्टेन पिछले कुछ समय से चोट से जूझ रहे हैं। डेल स्टेन का टेस्ट करियर शानदार रहा, उन्होने 93 टेस्ट मैचों में 439 विकेट लिए हैं।

नोबेल पुरस्कार विजेता लेखिका टोनी मॉरिसन का निधन

आधुनिक साहित्य में ‘बिलव्ड’ और ‘सांग आफ सोलोमन’ जैसे उपन्यासों का योगदान देने वाली नोबेल पुरस्कार विजेता लेखिका टोनी मॉरिसन का 88 वर्ष की उम्र में निधन हो गया। 18 फरवरी 1931 को जन्मी मॉरिसन का पहला उपन्यास ‘द ब्लूएस्ट आई’ उस समय प्रकाशित हुआ था, जब वह 40 साल की थीं। 60 साल की उम्र तक उनके छह उपन्यास प्रकाशित हुए और वह वर्ष 1993 में साहित्य के लिए नोबेल पुरस्कार पाने वाली पहली अश्वेत महिला बन गईं। ‘बिलव्ड’ के लिए उन्हें वर्ष 1988 में पुलित्जर पुरस्कार भी मिला। स्वीडिश एकेडमी ने उनके ‘विजनरी फोर्स’ और खासकर उसकी भाषा की बड़ी प्रशंसा की थी। उनकी भाषा श्वेत और अश्वेत वर्ग से मुक्ति की प्रतीक थी।