दैनिक समसामयिकी 07 फ़रवरी 2019

जीसैट-31 की कामयाब लॉन्चिंग

इसरो ने अपना संचार उपग्रह जीसैट-31 कक्षा में सफलता पूर्वक स्थापित कर दिया है। इसे बुधवार तड़के 2.31 बजे दक्षिण अमेरिका स्थिति फ्रेंच गुयाना से यूरोपीय रॉकेट एरियन-5 की मदद से लॉन्च किया गया। यह 15 साल तक काम करेगा। इसके जरिए अरब सागर, बंगाल की खाड़ी और हिंद मगासागर के इलाके में संचार क्षमता बढ़ेगी। 2019 में भारतीय अंतरिक्ष एजेंसी के उपग्रह का यह तीसरा कामयाब प्रक्षेपण है। इसरो के सतीश धवन स्पेस सेंटर (एसडीएससी) के निदेशक एस पांडियन ने बताया कि जीसैट-31 के लॉन्च होने से वीसेट नेटवर्क, टीवी अपलिंक, डिजिटल सैटेलाइट न्यूज, डीटीएच टीवी सर्विस और मोबाइल कनेक्टिविटी बेहतर बनाने में मदद मिलेगी। जीसैट-31 उपग्रह 2535 किलो वजनी है। यह इसरो की इनसेट और जीसैट उपग्रह शृंखला की अगली कड़ी है। इसके जरिए भारतीय महाद्वीप के साथ उपद्वीप को कवर किया जाएगा। यह भारत का 40वां संचार उपग्रह है।

27-28 फरवरी को वियतनाम में मिलेंगे ट्रम्प-किम

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प और किम जोंग 27-28 फरवरी को वियतनाम में मिलेंगे। ट्रम्प ने कांग्रेस में स्टेट ऑफ द यूनियन स्पीच में इसका ऐलान किया। इससे पहले दोनों नेता 12 जून को सिंगापुर में मिले थे। उस दौरान दोनों नेताओं के बीच 90 मिनट बातचीत हुई थी।

सरकार ने गुमाश्ता कानून में बदलाव किया

मुख्यमंत्री कमलनाथ ने छोटे व्यापारियों, दुकानदारों के हित में बड़ा फ़ैसला लेते हुए गुमाश्ता क़ानून में लायसेंस के नवीनीकरण की अनिवार्यता को समाप्त कर दिया है। इसके साथ ही व्यवसाय के लिए पंजीयन की विभिन्न श्रेणियों को भी समाप्त किया गया है। इस फैसले से प्रदेश के क़रीब 10 लाख छोटे व्यापारियों, दुकानदारों, स्थापना व्यवसायी, स्टार्टअप शुरू करने वालों को फ़ायदा होगा। अब उन्हें अपनी पूरी व्यवसाय अवधि में एक बार ही ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराना होगा। मप्र में दुकान और स्थापना अधिनियम 1958 के प्रावधानों के तहत अब उन्हें बार-बार लायसेंस नवीनीकरण नहीं कराना होगा। श्रम विभाग ने ये निर्णय “इज ऑफ़ डूइंग बिज़नेस“ को लेकर लिया है।

प्रियंका ने महासचिव का पद संभाला

प्रियंका गांधी वाड्रा ने बुधवार को कांग्रेस के दिल्ली स्थित मुख्यालय में महासचिव का पद संभाला। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रियंका को पूर्वी उत्तर प्रदेश का जिम्मा सौंपा है। राहुल ने प्रियंका को 23 जनवरी को पार्टी के महासचिव का जिम्मा सौंपा था।

केंद्र ने लोकपाल के लिए मांगे आवेदन

भ्रष्टचार की रोकथाम के लिए बनाई जाने वाली संवैधानिक संस्था लोकपाल के अध्यक्ष और सदस्य पदों के लिए आवेदन मांगे गए हैं। लोकपाल के अध्यक्ष और सदस्यों के नामों का पैनल तैयार करने के लिए जस्टिस रंजना प्रकाश देसाई की अध्यक्षता में एक सर्च कमेटी का गठन किया गया है। लोकपाल के अध्यक्ष और सदस्यों का चुनाव करने वाली चयन समिति की अध्यक्षता प्रधानमंत्री करेंगे। लोकसभा अध्यक्ष, निचले सदन में विपक्ष के नेता, भारत के मुख्य न्यायाधीश या उनके द्वारा नामित शीर्ष अदालत के न्यायाधीश और राष्ट्रपति द्वारा नामित प्रतिष्ठित न्यायविद इसके सदस्य होंगे।

कन्या भ्रूण हत्या रोकने के लिए मुखबिर योजना

दिल्ली सरकार कन्या भ्रूण हत्या रोकने के लिए मुखबिर योजना शुरू करेगी। इसके लिए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक में इस योजना को स्वीकृति दे दी है। इस योजना के तहत भ्रूण लिंग जांच की जानकारी देने वाले को सरकार दो लाख रूपये तक का इनाम देगी। इसमें 50 हजार की राशि मुखबिरी करने वाले को और डेढ़ लाख की राशि स्टिंग करने वाली महिला को दी जाएगी। गर्भाधान और प्री-नेटल डयग्नोस्टिक तकनीक अधिनियम, 1994 के तहत इस इनाम योजना को मंजूरी दी गई है।

परमाणु ऊर्जा से संचालित चार युद्धपोत बनाएगा चीन

चीन अपनी नौसेना की मारक क्षमता बढ़ाने के लिए परमाणु ऊर्जा से संचालित चार नए युद्धपोत बनाएगा। इन्हें 2035 तक तैयार कर लेने की योजना है। युद्धक विमानों से लैस इन पोतों के तैयार होने से चीन के पास युद्धपोतों की संख्या छह हो जाएगी जो अमेरिका के बाद सबसे ज्यादा होगी। अमेरिका के पास कुल 19 युद्धपोत हैं।

कनाडाई क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज के निवेशकों के करोड़ों रुपये फंसे

कनाडा के सबसे बड़े क्रिप्टोकरेंसी (सांकेतिक मुद्रा) एक्सचेंज में से एक के संस्थापक की भारत में अचानक मौत हो जाने के बाद कनाडा में लाखों लोग सकते में हैं। करीब डेढ़ लाख निवेशकों के पैसे एक पासवर्ड की वजह से डूबने की कगार पर है। इस एक्सचेंज को दिवालिया कानून के तहत संरक्षण दिया गया है। संस्थापक की अचानक मौत होने के बाद हजारों ग्राहकों का करीब 14.50 (10,37,54,75,000 रुपये) करोड़ डॉलर फंस गया है। एक्सचेंज के खातों का पासवर्ड सिर्फ संस्थापक को ही मालूम था।

रोशन मीनार की मानव आकृति गिनीज बुक आॅफ वल्र्ड रिकाॅर्ड में

संत निरंकारी मिशन के 18,700 श्रद्धालुओं द्वारा बनाई गई रोशन मीनार की सबसे बड़ी मानव आकृति को गीनीज बुक ऑफ व‌र्ल्ड रिका‌र्ड्स में दर्ज कर लिया गया है। ये व‌र्ल्ड रिकॉर्ड कार्यक्रम 17 नवंबर 2018 को सतगुरू माता सुदीक्षा जी महाराज की उपस्थिति में संत निरंकारी आध्यात्मिक स्थल, जीटी रोड, समालखा (हरियाणा) में आयोजित करके पूर्व सतगुरू माता स¨वदर हरदेव जी महाराज को समर्पित किया गया था। इस रोशन मीनार की मानव आकृति में भाग लेने के लिए हजारों निरंकारी श्रद्धालु 18 से 65 वर्ष की आयु तक पहुंचे थे व 25000 श्रद्धालुओं ने अपना नाम दर्ज करवाया था। जिसमें विभिन्न रंगों की पोशाक पहन निर्धारित स्थान अनुसार मानव आकृति बनाई गई थी।