दैनिक समसामयिकी 09 मार्च 2018

Currentaffairs:
*दैनिक समसामयिकी 09 मार्च 2018*
✅✅✅✅✅✅✅
• http://t.me/latestgkहाल ही में हॉलोकास्ट म्यूज़ियम द्वारा जिस पूर्व नोबल शांति पुरस्कार विजेता को दिया गया मानवाधिकार सम्मान वापिस लेने की घोषणा की गई- आंग सान सू की

• हाल ही में निम्नलिखित में से जिस महिला पर्वतारोही को हरियाणा सरकार द्वारा कल्पना चावला पुरस्कार से सम्मानित किया गया- अनिता कुंडू

*जॉइन करें* http://t.me/latestgk

• वह देश जो नेपाल में वर्ष 2015 के भूकंप में क्षतिग्रस्त हुए करीब 50,000 मकानों के पुनर्निर्माण के लिए करीब 1 अरब रुपये की मदद देगा- भारत

• जिस हाईकोर्ट ने मध्यस्थता ट्रिब्यूनल के आदेश को चुनौती देने वाली रिलायंस कम्युनिकेशंस (आरकॉम) की याचिका खारिज कर दी है- बॉम्बे हाईकोर्ट

*और पढ़े* http://gktoday.co.in

• जिस ऑल-राउंडर ने त्रिकोणीय टी-20 सीरीज़ के दूसरे मैच में बांग्लादेश के खिलाफ अंतर्राष्ट्रीय टी-20 क्रिकेट में 50 छक्के लगाने वाले तीसरे भारतीय खिलाड़ी बन गया-सुरेश रैना

• श्रीलंका में आपातकाल लागू होने के बावजूद मुस्लिमों पर हुए हमलों के बाद राष्ट्रपति मैत्रीपाल सिरिसेना ने प्रधानमंत्री रानिल विक्रमसिंघे को जिस मंत्री के पद से हटा दिया है- कानून मंत्री

• केंद्र सरकार ने टेलीकॉम कंपनियों को राहत देते हुए स्पेक्ट्रम भुगतान की अवधि मौजूदा 10 वर्ष से बढ़ाकर जितने वर्ष करने की मंज़ूरी दे दी है-16 वर्ष

• सूक्ष्म,लघु और मध्ययम उद्योग मंत्री गिरिराज सिंह ने 08 मार्च 2018 को महिला उद्यमियों को प्रोत्साहन देने के लिए जिस पोर्टल का शुभारंभ किया- उद्यम सखी

*फेसबुक पर लाइक करें* http://fb.me/gktodayindia

• हाल ही में जिस पार्टी के दो मंत्रियों अशोक गजपति राजू और वाई एस चौधरी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इस्तीफ़ा सौंप दिया- टीडीपी

• एशिया कप तीरंदाजी में राजनगर के तीरंदाज का जो नाम है जिन्हें स्वर्ण पदक हासिल हुआ- गोरा हो

• फ्रांस के राष्ट्रपति का नाम है जो पहली बार भारत यात्रा पर आ रहे हैं- इमैनुएल मैक्रों

• गिर राष्ट्रीय उद्यान में पाए जाने वाले एशियाई शेरों की संख्या में बढ़ोतरी होने पर इनकी गिनती जितनी पाई गई है-600

*सब्सक्राइब करें* https://t.me/latestgk

न्यायाधीश गीता मित्तल ‘नारी शक्ति पुरस्कार’ से सम्मानित

दिल्ली हाई कोर्ट की कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश गीता मित्तल को 08 मार्च 2018 को नारी शक्ति पुरस्कार से सम्मानित किया गया.

यह पुरस्कार पहली बार किसी महिला को कानून और न्याय के क्षेत्र में महिलाओं के लिए भारत के सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार से सम्मानित किया जा रहा है. यह पुरस्कार उन्हें राष्ट्रपति भवन में अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के मौके पर दिया गया.

केंद्र सरकार ने महिला उद्यमियों के लिए ‘उद्यम सखी’ पोर्टल का शुभारंभ किया

सूक्ष्‍म,लघु और मध्‍यम उद्योग मंत्री गिरिराज सिंह ने 08 मार्च 2018 को महिला उद्यमियों को प्रोत्साहन देने के लिए ‘उद्यम सखी’ पोर्टल का शुभारंभ किया. इस पोर्टल की वेबसाइट www.udyamsakhi.org. है.

देश में इस समय 80 लाख ऐसी महिलाएं हैं जिन्‍होंने अपना कारेाबार शुरु किया है सफलातपूर्व उसे चला रही हैं. सूक्ष्‍म,लघु और मध्‍यम उद्यम मंत्रालय (एमएसएमई) का मानना है कि भारतीय महिलाएं देश की आर्थिक प्रगति में अहम भूमिका निभा सकती हैं.

आंग सान सू की को दिया गया मानवाधिकार सम्मान वापिस लिया गया

अमेरिका स्थित हॉलोकास्ट म्यूज़ियम ने 08 मार्च 2018 को म्यांमार की नेता आंग सान सू की को दिए गये प्रतिष्ठित मानवाधिकार सम्मान को वापिस लेने की घोषणा की है. हॉलोकास्ट म्यूज़ियम का आरोप है कि सू की रोहिंग्या मुस्लिमों पर हो रहे हमलों को रोकने एवं उनकी सुरक्षा सुनिश्चित करने में नाकाम रही हैं.

म्यांमार में तानाशाह सैन्य शासन के दौरान 15 साल तक हिरासत में रह चुकी सू की वर्ष 2012 में यह मानवाधिकार सम्मान हासिल करने वाली दूसरी शख्सियत हैं.

इच्छामृत्यु के लिए सुप्रीम कोर्ट की मंजूरी, जानें इच्छामृत्यु से जुड़े फैक्ट्स

सुप्रीम कोर्ट ने 9 मार्च 2018 को एक याचिका पर सुनवाई करते हुए मरणासन्न व्यक्ति द्वारा इच्छामृत्यु के लिए लिखी गई वसीयत (लिविंग विल) को मंजूरी दे दी. सुप्रीम कोर्ट के फैसले के मुताबिक अब कोई मरीज़ सम्मान के साथ मर सकता है.

सुप्रीम कोर्ट ने इच्छामृत्यु के लिए एक गाइडलाइन जारी की है, जो कि कानून बनने तक प्रभावी रहेगी. चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा की अगुवाई में पांच जजों की संवैधनिक पीठ ने यह ऐतिहासिक फैसला सुनाया. चीफ जस्टिस के अलावा जस्टिस ए के सिकरी, जस्टिस ए एम खानविलकर, जस्टिस डी वाई चंद्रचूड़ और जस्टिस अशोक भूषण भी शामिल थे.

भारतीय आर्किटेक्ट बालकृष्ण दोशी ‘प्रित्जकर’पुरस्कार से सम्मानित

भारत के मशहूर आर्किटेक्ट बालकृष्ण दोशी को 07 मार्च 2018 को ‘प्रित्जकर’ पुरस्कार के लिए चुना गया है. यह पुरस्कार आर्किटेक्चर क्षेत्र में बेहतरीन कार्य करने वालों को दिया जाता है.

बालकृष्ण दोशी को विदेशी परंपरा के मुताबिक इमारत का निर्माण करने और उसी दौरान अपने गृह क्षेत्र के लोगों के जीवनस्तर में सुधार लाने के लिए प्रित्जकर पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा. बालकृष्ण दोशी प्रित्जकर पुरस्कार पाने वाले पहले भारतीय हैं. बालकृष्ण दोशी को यह पुरस्कार मई के महीने में टोरंटो में दिया जाएगा.