दैनिक समसामयिकी 11 नवम्बर 2018

उपराष्ट्रपति ने फ्रांस में किया भारत निर्मित युद्ध स्मारक का उद्घाटन

उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने प्रथम विश्वयुद्ध में शहीद भारतीय सैनिकों के सम्म्मान में भारत द्वारा उत्तरी फ्रांस में निर्मित पहले युद्ध स्मारक का उद्घाटन किया। उपराष्ट्रपति तीन दिवसीय यात्रा पर फ्रांस में हैं। वे प्रथम विश्व युद्ध के युद्ध विराम घोषणा के सौ साल पूरे होने के उपलक्ष में आयोजित कार्यक्रम में भारत का प्रतिनिधित्व करने के लिए फ्रांस में हैं।

श्रीलंका / राष्ट्रपति सिरिसेना ने आधी रात को संसद भंग की, 5 जनवरी को चुनाव कराने का ऐलान

श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरिसेना ने शुक्रवार रात संसद भंग कर दी। साथ ही 5 जनवरी को देश में चुनाव कराने का ऐलान किया। इससे साफ हो गया कि प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे के लिए सदन में उनके पास पर्याप्त समर्थन नहीं था। 26 अक्टूबर को नाटकीय घटनाक्रम में सिरिसेना ने प्रधानमंत्री रानिल विक्रमसिंघे को बर्खास्त कर पूर्व राष्ट्रपति महिंदा राजपक्षे को प्रधानमंत्री के तौर पर शपथ दिलाई थी। इसके बाद से श्रीलंका में राजनीतिक संकट गहरा गया था।

मध्यप्रदेश / मप्र हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस बने एसके सेठ

मप्र हाईकोर्ट के एक्टिंग चीफ जस्टिस एसके सेठ को मप्र हाईकोर्ट का 24वां चीफ जस्टिस नियुक्त किया गया है। केन्द्र सरकार ने 9 नवंबर को नियुक्ति की अधिसूचना जारी कर दी है। जस्टिस सेठ को जल्द ही राज्यपाल आनंदीबेन पटेल द्वारा चीफ जस्टिस के पद की शपथ दिलाई जाएगी। फिलहाल अभी शपथ ग्रहण की तिथि तय नहीं हुई है। एक नवंबर 2018 को मप्र हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस हेमंत गुप्ता ने सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस के पद की शपथ ली थी।

88 साल पुरानी फॉर्च्यून मैगजीन को 1095 करोड़ रु में खरीदेंगे पोकफेंड ग्रुप के जेरावेनन

मेरीडिथ पब्लिशर कंपनी 88 साल पुरानी फॉर्च्यून मैगजीन को 1,095 करोड़ रुपए (15 करोड़ डॉलर) में बेचने के लिए तैयार हो गई है। कंपनी ने शुक्रवार को इसकी जानकारी दी। थाईलैंड के बिजनेसमैन चेटचेवल जेरावेनन (56) फॉर्च्यून को खरीदेंगे। वो केरॉइन पोकफेंड ग्रुप की कई कंपनियों के बोर्ड में शामिल हैं। वो ग्रुप के चेयरमैन सुमेत जेरावेनन के बेटे हैं। लेकिन, फॉर्च्यून पत्रिका के लिए व्यक्तिगत तौर पर डील की है। अगले महीने के आखिर तक सौदा पूरा होने की उम्मीद है।

90 के दशक में डेब्यू करने वाले आखिरी खिलाड़ी रंगना हेराथ ने लिया संन्यास

श्रीलंका के दिग्गज स्पिनर रंगना हेराथ ने क्रिकेट को अलविदा कह दिया है। हेराथ के संन्यास से एक खिलाड़ी का ही नहीं बल्कि एक युग का अंत हो गया है। 40 साल के हेराथ 90 के दशक में डेब्यू करने वाले आखिरी खिलाड़ी हैं। बचपन में जिन खिलाड़ियों को आज के युवाओं ने खेलते देखा था उनमें आखिरी नाम हेराथ का है। शुक्रवार को इंग्लैंड के खिलाफ खेले गए टेस्ट मैच हेराथ आखिरी बार मैदान पर उतरे। हालाँकि श्रीलंका उन्हें विजयी विदाई नहीं दे सका।