दैनिक समसामयिकी 15 मार्च 2019

यूनाइटेड किंगडम ने स्टीफन हॉकिंग के सम्मान में जारी किया नया ब्लैकहोल कॉइन

यूनाइटेड किंगडम ने हाल ही में स्टीफन हॉकिंग की स्मृति में एक नया ब्लैककोल कॉइन जारी किया। यह सिक्का स्टीफन हॉकिंग द्वारा ब्लैकहोल के सन्दर्भ में किये गये कार्य के लिए जारी किया गया है। यह एक स्मारक सिक्का है, यह मुद्रा चलन में नही होगी। इन सिक्के पर स्टीफन हॉकिंग का नाम लिखा हुआ है तथा ब्लैक होल का चित्र बनाया गया है। इस सिक्के को एडविना एलिस द्वारा डिजाईन किया गया है। यह सिक्का सोने तथा चांदी में उपलब्ध है। इस सिक्के की कीमत 55 से 795 पौंड है। इस सिक्के को यूनाइटेड किंगडम की रॉयल मिंट द्वारा जारी किया गया है। स्टीफन हॉकिंग का जन्म 8 जनवरी, 1942 को हुआ था। उन्हें मौजूदा दौर के सर्वश्रेष्ठ वैज्ञानिकों में से एक माना जाता था। वे एक सैद्धानिक भौतिकशास्त्री, कोस्मोलोजिस्ट तथा लेखक थे। उन्होंने ब्लैक होल, हॉकिंग रेडिएशन तथा कई अन्य भौतिक शास्त्र के सिद्धांतों के लिए जाना जाता है। 21 वर्ष की उम्र में इन्हें मोटर न्यूरॉन नामक एक गंभीर बीमारी हो गई थी। मोटर न्यूरॉन बीमारी के चलते इनके अधिकत्तर अंगों ने काम करना बंद कर दिया था और धीरे-धीरे इनका पूरा शरीर लकवाग्रस्त हो गया था। उनका निधन 14 मार्च, 2018 को हुआ था।

भारत और ओमान के बीच अल-नागाह संयुक्त सैन्य अभ्यास

अल-नागाह III भारत और ओमान के बीच द्विपक्षीय सैन्य अभ्यास श्रृंखला का तीसरा संस्करण है। इसका आयोजन ओमान के जबल अल अख्दार पर्वतों में किया जा रहा है। इस युद्ध अभ्यास में भारतीय सेना का प्रतिनिधित्व गढ़वाल राइफल्स की 10वीं बटालियन द्वारा किया जा रहा है। जबकि ओमान की रॉयल आर्मी का प्रतिनिधित्व जबल रेजिमेंट द्वारा किया जा रहा है।अल नागाह I का आयोजन जनवरी 2015 में ओमान के मस्कट में किया गया था। जबकि अल नागाह II का आयोजन हिमाचल प्रदेश में मार्च 2017 में किया गया था। भारत-ओमान सुरक्षा सम्बन्धी पिछले कुछ वर्षों से मज़बूत हो रहे हैं और यह संयुक्त सैन्य अभ्यास इसी दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है।

अब सौर ऊर्जा के जरिये ट्रेनों को दौड़ाने की है तैयारी

ग्रीन होने की राह पर बढ़ रहे रेलवे ने सोलर एनर्जी कारपोरेशन आॅफ इंडिया की मदद से प्लांट स्थापित कर ट्रेनों का परिचालन सौर ऊर्जा से करने की परियोजना तैयार की है। रेलवे बोर्ड ने देशभर में पटरियों के किनारे व विभागीय भूमि पर सौर ऊर्जा प्लांट लगाने के लिए रेल मंत्रालय को प्रस्ताव भेज दिया है। पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर रेलवे की यह योजना दक्षिण मध्य रेलवे जोन में शुरू की जाएगी।

यंग ग्लोबल लीडर्स 2019 की सूची जारी

विश्व आर्थिक फोरम की फाउंडेशन “फोरम ऑफ़ यंग ग्लोबल लीडर्स” ने हाल ही में प्रतिभाशाली युवाओं की सूची जारी की। इस सूची में 40 वर्ष से कम उम्र के युवाओं को शामिल किया गया है। इस सूची में शामिल होने वाले भारतीय हैं, आंध्र प्रदेश के आईटी मंत्री नारा लोकेश, बीजेपी सांसद पूनम महाजन, शाओमी इंडिया के प्रमुख मनु कुमार जैन, तेलंगाना सरकार के चीफ इनोवेशन ऑफिसर फनीन्द्र समा, सेव लाइफ फाउंडेशन के पियूष तिवारी तथा कलेइदोफिन के सह-संस्थापक सुचरिता मुखर्जी। विश्व आर्थिक फोरम (WEF) एक अंतर्राष्ट्रीय संस्था है, इसकी स्थापना क्लाउस श्वाब ने सार्वजनिक-निजी सहयोग के द्वारा विश्व की स्थित में सुधार के लिए की थी। इसकी स्थापना 1971 में की गयी थी। इसका मुख्यालय स्विट्ज़रलैंड के जिनेवा में स्थित है।

एचजीएस और नैसकॉम बैंगलोर में पीडब्ल्यूडी के लिए उत्कृष्टता केंद्र शुरू करेगें

हिंदुजा ग्लोबल सॉल्यूशंस (एचजीएस) ने डिफरेंटली एबल्ड पर्सन या दिव्यांग लोगो (पीडब्ल्यूडी) को प्रशिक्षण देने के लिए बेंगलुरु में उत्कृष्टता केंद्र शुरू करने के लिए नैसकॉम फाउंडेशन के साथ भागीदारी की, जो अगले 12 महीनों में उद्योग के लिए तैयार करने के लिए एक न्यूनतम 100 पीडब्ल्यूडी को प्रशिक्षित करेगा, जिसमें एक लक्ष्य रखा जाएगा की उनमें से कम से कम 50% को उन कंपनियों में काम पर रखा जाएगा जो पहले से ही दिव्यांग लोगो को ले कर संवेदनशील है।

महात्मा गांधी का जीवन और समय लंदन पुस्तक मेले में प्रदर्शित

12 मार्च 2019 को, इंडिया पवेलियन का उद्घाटन विक्रम सहाय, सूचना और प्रसारण मंत्रालय में संयुक्त सचिव और लंदन बुक फेयर में प्रकाशन प्रभाग में महानिदेशक साधना राउत द्वारा किया गया था। लंदन बुक फेयर का आयोजन 12 मार्च से 14 मार्च 2019 तक किया जा रहा है। इंडिया पवेलियन महात्मा गांधी की 150 वीं जयंती पर केंद्रित है और यह महात्मा गांधी के जीवन और समय के डिजिटल संस्करण को प्रदर्शित करता है।

सिरसी सुपारी को मिला भौगोलिक संकेत (GI) टैग

कर्नाटक के उत्तर कन्नड़ जिले की सिरसी सुपारी को भौगोलिक संकेत (GI) टैग प्रदान किया। सिरसी सुपारी का उत्पादन उत्तर कन्नड़ जिले के सिरसी, येल्लापुर तथा सिद्दापुर तालुक में उगाया जाता है। इन तीन तालुकों में प्रतिवर्ष 40,000 एकड़ क्षेत्र में 4 लाख सुपारी का उत्पादन किया जाता है।

भारत में छह परमाणु बिजलीघर बनाने के लिए अमेरिका राजी

भारत में छह परमाणु बिजलीघर बनाने के लिए अमेरिका के साथ समझौता हुआ है। इस समझौते से दोनों देशों के बीच सुरक्षा और नागरिक उपयोग के लिए परमाणु सहयोग और ज्यादा सुदृढ़ होने की उम्मीद जताई जा रही है। अमेरिका ने देरी न करते हुए परमाणु आपूर्तिकर्ता समूह (एनएसजी) में भारत की सदस्यता के लिए मजबूती से पैरोकारी करने का एलान किया है। 48 सदस्यीय इस खास समूह में भारत के प्रवेश में चीन अड़ंगा लगा रहा है। इस सिलसिले में आयोजित बैठक की अध्यक्षता भारतीय विदेश सचिव विजय गोखले और अमेरिका के शस्त्र नियंत्रण और अंतरराष्ट्रीय सुरक्षा मामलों की अनु सचिव एंडिया थॉमसन ने संयुक्त रूप से की। दोनों देशों के बीच अक्टूबर 2008 में ऐतिहासिक परमाणु समझौता हुआ था। इसने दोनों देशों के संबंधों को नई ऊंचाइयां दी थीं। उसके बाद से दोनों देशों के रिश्ते तरक्की की राह पर हैं।

आइडीबीआइ बैंक बना अब निजी क्षेत्र का बैंक

भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआइ) ने आइडीबीआइ बैंक को निजी क्षेत्र के बैंक की श्रेणी में रख दिया है। भारतीय जीवन बीमा निगम (एलआइसी) के आइडीबीआइ बैंक में अधिकांश हिस्सेदारी के अधिग्रहण के बाद यह कदम उठाया गया है। एलआईसी ने संकट में फंसे आईडीबीआई बैंक में नियंत्रणकारी 51 फीसद हिस्सेदारी का अधिग्रहण जनवरी में पूरा किया था। आरबीआइ ने एक बयान में कहा कि रिजर्व बैंक ने नियामकीय मकसद से 21 जनवरी 2019 से आइडीबीआइ बैंक को निजी क्षेत्र के बैंक की श्रेणी में रखा है। एलआइसी के आइडीबीआइ बैंक में चुकता शेयर पूंजी का 51 फीसद अधिग्रहण के बाद बैंक को निजी श्रेणी में डाला गया है।

सोना युक्ती को युवाओं को कौशल विकास में मदद करने के लिए एसईएन पुरस्कार

सोना युक्ती, एक कौशल विकास संस्थान, को दक्षिण अफ्रीका के केप टाउन में आयोजित वार्षिक कार्यक्रम में यंग प्रेसिडेंट्स ऑर्गनाइजेशन द्वारा शिक्षा के लिए सोशल एंटरप्राइज नेटवर्क (एसईएन) स्थिरता पुरस्कार से सम्मानित किया गया। यह 2018 के एसईएन पुरस्कारों के हिस्से के रूप में चयनित होने वाला एकमात्र भारतीय संगठन है। सोना युक्ती को यह पुरस्कार 55,000 से अधिक आर्थिक रूप से वंचित व्यक्तियों, ज्यादातर महिलाओं की कौशल प्रदान करके मदद करने के लिए दिया गया।

वेद राही को कुसुमाग्रज राष्ट्रीय साहित्य पुरस्कार

प्रसिद्ध उपन्यासकार और फिल्म निर्देशक वेद राही को प्रतिष्ठित कुसुमाग्रज राष्ट्रीय साहित्य पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा, जो 1 लाख रुपये का नकद पुरस्कार और एक प्रशस्ति पत्र प्रदान करता है। वेद राही का जन्म 1933 में जम्मू में हुआ था और उन्होंने डोगरी भाषा में सात उपन्यास लिखे थे। उन्होंने हिंदी और उर्दू में भी लिखा। 1983 में उनके उपन्यास ‘आले’ के लिए उन्हें साहित्य अकादमी पुरस्कार दिया गया जो डोगरी भाषा में लिखा गया था। कुसुमाग्रज पुरस्कार मराठी कवि और नाटककार स्वर्गीय वी वी शिरवाडकर के नाम पर रखा गया है, जिन्हें कुसुमाग्रज के नाम से जाना जाता था।

महिलाओं की भागीदारी के सन्दर्भ में डाटा जारी

अंतरसंसदीय संघ ने हाल ही में राजनीती में महिलाओं की भागीदारी के सन्दर्भ में डाटा जारी किया, इसके अनुसार 2017 में विश्व में 7.2% महिला राष्ट्र प्रमुख थीं, 2018 में यह दर कम हो कर 6.6% पर पहुँच गयी है। 2017 में सरकार में महिला प्रमुखों की दर 5.7% थी, 2018 में यह कम होकर 5.2% हो गयी है। संसद में महिलाओं की वैश्विक भागीदारी में 1% की वृद्धि हुई, अब यह दर बढ़कर 24.1% हो गयी है। 1995 से 2018 के बीच संसद में महिलाओं की भागीदारी में 11% की वृद्धि हुई है। अंतरसंसदीय संघ की स्थापना 1889 में की गयी थी, यह एक वैश्विक अंतरसंसदीय संस्थान है। इसका मुख्यालय स्विट्ज़रलैंड के जिनेवा में स्थित है। इसकी स्थापना फ्रेडरिक पैसी तथा विलियम रैंडल क्रेमर द्वारा की गयी थी। 178 देशों की राष्ट्रीय संसद इस संघ की सदस्य हैं।

केंद्र ने राज्य सरकारों से कहा: शत्रु संपत्तियों को सार्वजनिक उपयोग में लाया जा सकता है

केंद्र सरकार ने राज्य सरकारों को कुछ शत्रु संपत्तियों के उपयोग के लिए सार्वजनिक करने की अनुमति दी है, 1965 और 1971 के युद्धों के बाद पाकिस्तान और चीन के लिए भारत छोड़ने वाले लोगों ने ये जमीने छोडी थी।

पश्चिमी घाट पर्वत श्रृंखला में ‘स्टार्री ड्वार्फ फ्रॉग’ के रूप में ज्ञात मेंढक की एक नई प्रजाति खोजी

पश्चिमी घाट पर्वत श्रृंखला में ‘स्टार्री ड्वार्फ फ्रॉग’ के रूप में ज्ञात मेंढक की एक नई प्रजाति खोजी गई है। इसका नाम ‘एस्ट्रोबैट्रैचस कुरिचियाना’ रखा गया है और यह कुरिचियारमाला, केरल में पाया जाता है। इसका संतरंगी पेट है। इसकी पीठ भूरे रंग की है जो छोटे-छोटे धब्बों से ढकी है, जो इसे स्टार्री स्काई जैसा दिखाती है।

राष्ट्रपति ने वीरता पुरस्कार प्रदान किये

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने वीरता पुरस्कार प्रदान किये।इस बार 2 कीर्ति चक्र, 1 शौर्य चक्र, 15 परम विशिष्ट सेवा मैडल, 1 उत्तम युद्ध सेवा मैडल, 25 अति विशिष्ट सेवा मैडल तथा 14 शौर्य चक्र प्रदान किये गये। कीर्ति चक्र विजेता श्री ब्रह्मा पाल सिंह (मरणोपरांत), श्री राजेन्द्र कुमार नैन, कांस्टेबल (मरणोपरांत) हैं।

वायु प्रदूषण से बढ़ता है मधुमेह का खतरा

हाल ही में चीन में किये गये अध्ययन में यह पाया गया है कि वायु प्रदूषण के कारण मधुमेह का खतरा बढ़ता है। इस अध्ययन के लिए चीन के 15 प्रान्तों में 88,000 लोगों का डाटा एकत्रित किया गया। इस अध्ययन में 2004 से 2015 की अवधि में PM 2.5 के प्रभाव का अध्ययन किया गया।यह अध्ययन बीजिंग के फुवाई अस्पताल तथा अमेरिका के एमोरी विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं द्वारा किया गया। इस अध्ययन का प्रकाशन “एनवायरनमेंट इंटरनेशनल” नामक पत्रिका में किया गया है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार वायु प्रदूषण के कारण प्रतिवर्ष 1 मिलियन लोगों की मृत्यु समय से पूर्व हो जाती है। PM 2.5 कणों के प्रभाव में 10 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर की वृद्धि हो जाने के कारण मधुमेह रोग का खतरा 16% बढ़ जाता है।

यूरोपीय संघ ने 10 देशों को टैक्स ब्लैकलिस्ट में शामिल किया

हाल ही में यूरोपीय संघ ने 10 देशों को टैक्स ब्लैकलिस्ट में शामिल किया। इस सूची को सर्वप्रथम यूरोपीय संघ ने 2017 में तैयार किया था। इस सूची को पनामा पेपर्स तथा लक्सलीक्स जैसे विवादों के बाद तैयार किया गया था। इसके बाद यूरोपीय संघ ने कर चोरी के विरुद्ध करवाई करने का निर्णय लिया। सात देशों को ग्रेलिस्ट से ब्लैकलिस्ट में डाल दिया गया है, यह सात देश हैं : अरुबा, बेलीज़, बरमूडा, फिजी, ओमान, वानुआतु तथा डॉमिनिका। तीन अन्य देशों बारबाडोस, संयुक्त अरब अमीरात और मार्शल आइलैंड को भी ब्लैकलिस्ट में शामिल किया गया है।

34वां अन्तरराष्ट्रीय आहार मेला प्रारम्भ

34वां अन्तरराष्ट्रीय आहार मेला दिल्ली के प्रगति मैदान में चल रहा है। यहां देश-विदेश से 560 भागीदार अपने उत्पादों का प्रदर्शन कर रहे हैं।

चीन ने अज़हर मसूद को वैश्विक आतंकवादी घोषित किये जाने पर आपत्ति जताई

चीन ने अज़हर मसूद को वैश्विक आतंकवादी घोषित किये जाने पर आपत्ति जताई है। अज़हर मसूद पाकिस्तान में मौजूद आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद का प्रमुख है। इसके लिए फ्रांस, अमेरिका और यूनाइटेड किंगडम ने 27 फरवरी को प्रस्ताव पारित किया था। चीन संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद् का स्थायी सदस्य है। चीन ने आपत्ति दायर करने की डेडलाइन समाप्त होने से ठीक पहले आपत्ति दायर की।