दैनिक समसामयिकी 16 अगस्त 2018

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का निधन: जानें इनका राजनीतिक सफ़र

भारत के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का 16 अगस्त 2018 को दिल्ली के एम्स में शाम 05 बजकर 05 मिनट पर निधन हो गया. अटल बिहारी वाजपेयी को गुर्दा (किडनी) की नली में संक्रमण, छाती में जकड़न, मूत्रनली में संक्रमण आदि के बाद 11 जून 2018 को एम्स में भर्ती कराया गया था.

मधुमेह से पीड़ित वाजपेयी का एक ही गुर्दा काम करता था. हालांकि, इन सबमें डिमेंशिया से भी अटल बिहारी वाजपेयी सबसे ज्यादा पीड़ित थे. आपको बता दें कि वाजपेयी काफी दिनों से बीमार थे. वे लगभग 15 साल पहले राजनीति से संन्यास ले चुके थे.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा स्वतंत्रता दिवस पर की गई प्रमुख घोषणाएं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 72वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर 15 अगस्त 2018 को लाल किले से देश को संबोधित करते हुए तीन प्रमुख राष्ट्रव्यापी घोषणाएं की गईं. यह घोषणाएं स्वास्थ्य, अन्तरिक्ष एवं महिलाओं के सशक्तिकरण से संबंधित हैं.

प्रधानमंत्री द्वारा 82 मिनट के भाषण में जो तीन घोषणाएं की गईं उनमें शामिल हैं – पहली, वर्ष 2022 में आजादी के 75 साल पूरे होने से पहले भारत अंतरिक्ष में मानव मिशन के साथ गगनयान भेजेगा और वह ऐसा करने वाला दुनिया का चौथा देश बन जाएगा. दूसरी, सशस्त्र बलों में महिलाओं को पुरुषों के समान स्थायी कमीशन दिया जाएगा. तीसरी, 10 करोड़ गरीब परिवारों को पांच लाख रुपए तक का मुफ्त हेल्थ कवर देने के लिए 25 सितंबर से आयुष्मान भारत योजना शुरू होगी.

आनंदीबेन पटेल ने छत्तीसगढ़ के अतिरिक्त राज्यपाल का पदभार संभाला

मध्य प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल को छत्तीसगढ़ के राज्यपाल का अतिरिक्त कार्यभार सौंपा गया है, उन्होंने 15 अगस्त 2018 को शपथ ग्रहण की. छत्तीतसगढ़ के राज्यपाल बलरामजी दास टंडन का 91 वर्ष की उम्र में निधन होने के पश्चात् यह पद रिक्त हो गया था.

छत्तीसगढ़ के राज्यपाल की स्थायी नियुक्ति तक आनंदीबेन पटेल इस पद पर कार्यरत रहेंगी. उन्होंने छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश अजय कुमार त्रिपाठी के समक्ष शपथ ग्रहण की. बलरामजी दास ने 18 जुलाई 2014 को छत्तीसगढ़ के राज्यपाल का पदभार संभाला था.

नीति आयोग ने ‘पिच टू मूव’ प्रतियोगिता शुरू करने की घोषणा की

नीति आयोग ने 14 अगस्त 2018 को देश के उभरते उद्यमियों के लिए ‘पिच टू मूव’ नाम से एक प्रतियोगिता शुरू करने की घोषणा की है. प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी वैश्विक गतिशीलता शिखर सम्‍मेलन के अवसर पर प्रतियोगिता के विजेताओं को पुरस्‍कार देंगे.

इसका उद्देश्‍य स्‍टार्ट-अप्‍स को कारोबार से जुड़े नये विचार निर्णायक मंडल (जूरी) के सामने पेश करने का मौका देना है. इसके तहत निवेश आकर्षित करने के लिए मोबिलिटी के विभिन्‍न क्षेत्रों में काम करने वाले स्‍टार्ट-अप्‍स उद्योगपतियों और उपक्रम पूंजी उपलब्‍ध कराने वालों के समक्ष अपने विचार रख सकते हैं.

देश भर में 72वां स्वतंत्रता दिवस मनाया गया

भारत ने 15 अगस्त 2018 को 72वां स्‍वतंत्रता दिवस मनाया. इस दौरान प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने दिल्‍ली में ऐतिहासिक लालकिले की प्राचीर से राष्‍ट्र को सम्‍बोधित किया. बता दें, यह प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी का 5वां भाषण था.

इस वर्ष नौसेना समन्वय का कार्य कर रही है इसलिए गार्ड ऑफ ऑनर की कमान नौसेना के कमांडर पी.आर. जगन मोहन ने संभाला था. प्रधानमंत्री की गार्ड ऑफ ऑनर दस्ते में सेना की कमान मेजर सूरज पाल ने संभाली, जबकि नौसेना की कमान लेफ्टिनेंट कमांडर एम.वाई.वी. तेजस तथा वायु सेना दस्ते का नेतृत्व स्क्वाड्रन लीडर प्रवीण नारायण और दिल्ली पुलिस दस्ते का नेतृत्व एसीपी जगदेव सिंह यादव ने किया.