दैनिक समसामयिकी 17 सितंबर 2018

डीआरडीओ ने ‘मैन पोर्टेबल ऐंटी-टैंक गाइडेड मिसाइल’ का सफल परीक्षण किया

भारत के रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (डीआरडीओ) द्वारा विकसित किए गए मैन पोर्टेबल ऐंटी-टैंक गाइडेड मिसाइल (एमपीएटीजीएम) का 16 सितम्बर 2018 को महाराष्ट्र के अहमदनगर रेंज पर सफल परीक्षण किया गया.

इसका पहला परीक्षण 15 सितम्बर 2018 को किया गया था. यह परीक्षण पूरी तरह से सफल रहा. बता दें कि इसे पूरी तरह भारत में ही विकसित किया गया है. इस परीक्षण से सभी मिशन उद्धेश्‍यों को पूरा किया गया है. दो मिशनों को अधिकतम सीमा क्षमता सहित विभिन्‍न श्रेणियों के लिए सफलतापूर्वक उड़ान परीक्षण कर पूरा किया गया.

भारत और सर्बिया ने द्विपक्षीय संबंधों को बढ़ावा देने हेतु दो समझौते पर हस्ताक्षर किए

भारत के उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू और सर्बिया के प्रेजिडेंट अलेक्जेंडर वुसिस ने 15 सितंबर 2018 को द्विपक्षीय संबंधों को बढ़ावा देने के लिए दो समझौते पर हस्ताक्षर किए. इसके बाद दोनों नेताओं ने आध्यात्मिक गुरु स्वामी विवेकानंद और महान वैज्ञानिक निकोला टेसला की याद में डाक टिकट जारी किए.

नायडू ने सर्बिया पैलेस में वुसिस से व्यापार, रक्षा और सूचना प्रौद्योगिकी सहित कई क्षेत्रों में द्विपक्षीय सहयोग मजबूत बनाने पर बात की. उन्होंने कहा कि दोनों देशों के संबंध मुख्य हितों के मुद्दों पर पारस्परिक विश्वास, आपसी समझ और एक-दूसरे के समर्थन पर आधारित हैं.

संयुक्त राष्ट्र मानव विकास सूचकांक में भारत को 130वां स्थान हासिल हुआ

संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम (यूएनडीपी) की ओर से जारी मानव विकास रैकिंग (Human Development Index) में भारत को 130वां स्थान प्राप्त हुआ है. भारत को वर्ष 2018 की रैंकिंग में एक स्थान का सुधार मिला जिससे भारत 189 देशों के बीच 130वां नंबर मिला है.

वर्ष 2017 के लिए भारत का एचडीआई मूल्य 0.640 है. जिसके कारण भारत को मानव विकास श्रेणी में रखा गया है. यह दक्षिण एशिया के औसत 0.638 से अधिक है. संयुक्त राष्ट्र की रिपोर्ट के अनुसार भारत में जीवन प्रत्याशा के मामले में स्थिति बेहतर हुई है.

केंद्र सरकार ने रुपये की कीमत में स्थिरता लाने के लिए पांच उपायों की घोषणा की

पिछले कुछ समय से डॉलर के मुकाबले रुपये के गिरते स्तर में सुधार हेतु केंद्र सरकार ने रुपये के मूल्य में स्थिरता लाने तथा चालू खातों के घाटे को कम करने के लिए कुछ उपायों की घोषणा की है. इसका लक्ष्य घाटे में कमी लाकर अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाना है.

गैर जरूरी आयात को नियंत्रित करने और निर्यात को बढ़ावा देने के उपाय किये गये हैं. चालू खाता घाटा को कम करने के लिये सरकार गैर-आवश्यक सामानों के आयात में कमी लाने का प्रयास करेगी.

भारत और अमेरिका के मध्य संयुक्त ‘युद्ध अभ्यास 2018’ उत्तराखंड में शुरू

भारत और अमेरिकी सेनाओं के बीच संयुक्त सैन्य प्रशिक्षण अभ्यास 16 सितंबर 2018 से उत्तराखंड के अल्मोडा जिले में बसे चौबटिया में शुरू हो गया. यह अभ्यास 29 सितंबर 2018 को समाप्त होगा. युद्ध अभ्यास—2018 सबसे लंबे चलने वाले संयुक्त सैन्य प्रशिक्षण अभ्यासों में से एक है और भारत तथा अमेरिका के बीच एक प्रमुख दि्वपक्षीय रक्षा सहयोग प्रयास है.

इस युद्ध अभ्यास का उद्धाटन सेना की मध्य कमान मुख्यालय में भव्य तरीके से हुआ. दोनों देशों ने अपने राष्ट्रगान और ध्वज के साथ इसकी शुरूआत की. इसके बाद निकाले गए मार्चपास्ट में अधिकारियों को सलामी दी गई. मार्च पास्ट का नेतृत्व भारतीय सेना के कमांडर कर्नल एसवी चेरियन और अमेरिका सेना के मेजर जनरल विलियम द्वारा किया गया.