दैनिक समसामयिकी 20 नवम्बर 2018

ऑटो कंपनी निसान के चेयरमैन गिरफ्तार

जापान की कार कंपनी निसान मोटर के चेयरमैन कार्लोस घोस (64) को सोमवार को गिरफ्तार कर लिया गया। जापानी मीडिया में यह दावा किया जा रहा है। उन पर जापान के वित्तीय कानून के उल्लंघन का आरोप है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक निसान ने भी आरोपों की पुष्टि करते हुए कहा कि कार्लोस ने कई सालों तक अपनी इनकम वास्तविक से कम बताई। उन्होंने कंपनी के पैसे का निजी इस्तेमाल किया। कार्लोस फ्रांस की ऑटो कंपनी रेनो के चेयरमैन और सीईओ भी हैं। कार्लोस की गिनती जापान के टॉप एग्जीक्यूटिव में होती है। उन्होंने निसान को दिवालिया होने से बचाया था। साल 1999 में रेनो ने निसान में कंट्रोलिंग हिस्सेदारी खरीदी थी। उसके बाद कार्लोस निसान से जुड़े और 2001 में सीईओ बन गए थे।

ज्वेरेव ने एटीपी खिताब जीता, जोकोविच को हराया

जर्मनी के एलेक्जेंडर ज्वेरेव ने दुनिया के नंबर एक पुरुष टेनिस खिलाड़ी सर्बिया के नोवाक जोकोविच को 6-4, 6-3 से हराकर एटीपी फाइनल्स का खिताब जीत लिया। इस टूर्नामेंट में वे पहली बार चैम्पियन बने। इस जीत से 21 साल के ज्वेरेव को रैंकिंग में भी एक स्थान का फायदा हुआ। वे अब वर्ल्ड मेन्स रैंकिंग में पांचवें से चौथे नंबर पर पहुंच गए हैं। एटीपी फाइनल्स में दुनिया के शीर्ष-8 पुरुष टेनिस खिलाड़ी ही खेलते हैं। यह इस साल का आखिरी टूर्नामेंट था।

मनमोहन सिंह को इंदिरा गांधी शांति पुरस्कार

पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की जयंती पर मनमोहन सिंह को निस्त्रीकरण और विकास के लिए इंदिरा गांधी शांति पुरस्कार- 2017 से नवाजा गया। कार्यक्रम में पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, पूर्व चीफ जस्टिस टीएस ठाकुर भी मौजूद रहे। इंदिरा गाँधी शांति पुरस्कार भारत की पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की याद में दिया जाता है। 1984 में उनकी हत्या कर दी गई थी। उनकी स्मृति में बना “इंदिरा गांधी मेमोरिल ट्रस्ट’1986 से हर साल इंदिरा गांधी शांति, निरस्त्रीकरण और विकास पुरस्कार’ देता है। यह पुरस्कार दुनिया के ऐसे वयक्ति को दिया जाता है, जिसने समाज सेवा, निरस्त्रीकरण या विकास के कार्य में अहम योगदान दिया हो।

कारोबारी सहूलियत में भारत को टाॅप-50 में लाने का लक्ष्य

भारत को पांच ट्रिलियन डाॅलर की अर्थव्यवस्था बनाने के लिए सरकारी कारोबारी की प्रक्रिया आसान करने और औद्योगिक नीति में बदलाव पर जोर देगी। इसी दिशा में कदम बढ़ाते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘ईज आफ डूइंग बिजनेस ग्रांड चैलेंज’ लांच किया।

एचडी कैमरे-जेट पम्प वाली देश की पहली सीवर मशीन

वर्ल्ड टॉयलेट डे के मौके पर स्वच्छता और सामाजिक-सेवा से जुड़ी संस्था सुलभ शौचालय ने सोमवार को नई दिल्ली में देश की पहली सीवर क्लीनिंग मशीन पेश की। सुलभ इंटरनेशनल के संस्थापक डॉ. बिंदेश्वर पाठक के मुताबिक, इस मशीन की मदद से सेप्टिक टैंक की मैन्युअल सफाई से निजात मिलेगी। उन्होंने कहा कि मशीन की मदद से सीवर लाइन की सफाई के दौरान होनी वाली मौतों पर भी रोक लगाई जा सकेगी। पिछले दो साल के आंकड़ों के मुताबिक, देश में सफाई के दौरान हर पांच दिन में एक सफाईकर्मी की मौत हो जाती है।

देश की पहली टाॅयलेट पार्लियामेंट

फीरोजाबाद शहर के पास के गांव वाजिदपुर में विश्व शौचालय दिवस पर देश की पहली टाॅयलेट पार्लियामेंट(शैचालय संसद) में खुले में शौच जाने पर 500 रूपये जुर्माने के प्रस्ताव समेत छह प्रस्ताव ध्वनिमत से पारित कर स्वच्छता का संदेश दिया गया।

स्वच्छ भारत मिशन(शहरी) योजना के तहत अब तक लगभग 60.5 लाख घरेलू शौचालयों का निर्माण किया गया है वहीं इसी अवधि में 4.7 लाख सामुदायिक शौचालयों का निर्माण किया गया । मिशन के तहत 5.07 लाख सामुदायिक शौचालयों के निर्माण का लक्ष्य है।

अंतरिक्ष में आइएसएस ने पूरे किए 20 साल

अंतरिक्ष को करीब से जानने के लिए 20 नवंबर 1998 को अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष केंद्र को अंतरिक्ष में स्थापित किया गया था।17,500 मील प्रतिघंटा की रफ्तार से पृथ्वी का चक्कर लगा रहा यह स्टेशन पृथ्वी से अंतरक्षि में भेजी गई अब तक की सबसे बड़ी वस्तु है।

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को इंदिरा गांधी शांति पुरस्कार प्रदान किया गया

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को 19 नवम्बर 2018 को इंदिरा गांधी शांति पुरस्कार प्रदान किया गया. पूर्व प्रधान न्यायाधीश टी एस ठाकुर ने मनमोहन सिंह को यह पुरस्कार (2017 के लिए) प्रदान किया. यह पुरस्कार इंदिरा गांधी स्मृति न्यास द्वारा ‘शांति, निरस्त्रीकरण एवं विकास’ के लिए काम करने वाले व्यक्तियों, समूहों एवं संस्थाओं को दिया जाता है.

यह पुरस्कार पूर्व प्रधानमंत्री को समाजसेवा, निरस्त्रीकरण व विकास के कार्य में अहम योगदान देने के लिए दिया गया. मनमोहन सिंह को वर्ष 2004 से वर्ष 2014 तक प्रधानमंत्री के रूप में देश की आर्थिक एवं सामाजिक विकास और विश्व में भारत की साख को बनाने के लिए यह पुरस्कार दिया गया है. इस कार्यक्रम में पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, पूर्व चीफ जस्टिस टीएस ठाकुर भी मौजूद रहे.

केन्द्रीय वाणिज्य मंत्री सुरेश प्रभु ने एयरसेवा 2.0 वेब पोर्टल लांच किया

केन्‍द्रीय नागरिक उड्डयन एवं वाणिज्‍य मंत्री सुरेश प्रभु और नागरिक उड्डयन राज्‍य मंत्री जयंत सिन्‍हा ने 19 नवंबर 2018 को नई दिल्‍ली में एयरसेवा 2.0 वेब पोर्टल और मोबाइल एप का उन्‍नत वर्जन लांच किया. इस अवसर पर नागरिक उड्डयन मंत्री ने कहा कि उपयोगकर्ताओं (यूजर) को बेहतर अनुभव प्रदान करने के उद्देश्‍य से एयरसेवा के एक उन्‍नत वर्जन के विकास की जरूरत महसूस की जा रही थी.

इस वेब पोर्टल में कई खूबियां शामिल की गई हैं. सोशल मीडिया के साथ सुरक्षित साइन-अप एवं लॉग-इन, यात्रियों की सुविधा के लिए चैटबॉट, सोशल मीडिया पर शिकायतों सहित बेहतर शिकायत प्रबंधन, वास्‍तविक समय पर उड़ानों की ताजा स्‍थिति से अवगत कराना और उड़ान कार्यक्रम से जुड़ा विस्‍तृत विवरण उपलब्‍ध कराना इन खूबियों में शामिल हैं.

केन्द्रीय वाणिज्य मंत्री ने ‘औद्योगिक पार्क रेटिंग प्रणाली’ पर रिपोर्ट जारी की

केन्‍द्रीय वाणिज्‍य मंत्री सुरेश प्रभु ने 19 नवंबर 2018 को ‘औद्योगिक पार्क रेटिंग प्रणाली’ पर एक रिपोर्ट जारी की. रिपोर्ट वाणिज्‍य एवं उद्योग मंत्रालय के औद्योगिक नीति एवं संवर्धन विभाग (डीआईपीपी) द्वारा ‘औद्योगिक पार्क रेटिंग प्रणाली’ पर तैयार की गई.

इस अवसर पर वाणिज्‍य मंत्री सुरेश प्रभु ने कहा कि विनिर्माण क्षेत्र भी भारत के तेज विकास वाले क्षेत्र (सेक्‍टर) के रूप में उभर कर सामने आया है और यह विश्‍व बैंक के ‘कारोबार में सुगमता’ सूचकांक (ईओडीबी-2019) में 23 पायदान ऊपर चढ़ गया है.

जलवायु परिवर्तन के कारण समाप्त हुई थी हड़प्पा सभ्यता: अध्ययन

हाल ही में किये गये अध्ययन में पाया गया कि जलवायु परिवर्तन के कारण ही सिंधु घाटी सभ्यता का विनाश हुआ था. इसे हड़प्पा सभ्यता के नाम से भी जाना जाता है. शोधकर्ताओं ने समुद्री जीवाश्म और इसके डीएनए का उपयोग करके यह निष्कर्ष निकाला है कि जलवायु परिवर्तन के प्रकोप के कारण ही हड़प्पा सभ्यता की समाप्ति हुई.

वैज्ञानिकों के एक अंतर्राष्ट्रीय समूह द्वारा किये गए इस अध्ययन का शीर्षक ‘नियोग्लेशियल क्लाइमेट एनॉमलीज़ एंड हड़प्पाई मेटामॉरफोसिस था. सिंधु घाटी के तापमान तथा मौसम के पैटर्न में बदलाव की वज़ह से ग्रीष्मकालीन मानसूनी बारिश में धीरे-धीरे कमी आने लगी जिस वज़ह से हड़प्पाई शहरों के आस-पास कृषि कार्य किया जाना मुश्किल या असंभव हो गया.

आरबीआई के इकॉनोमिक कैपिटल फ्रेमवर्क के परीक्षण के लिए विशेषज्ञ समिति बनाने का निर्णय

भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के केन्द्रीय निदेशक मंडल की केंद्र सरकार के साथ बैठक में केन्द्रीय बैंक के इकॉनोमिक कैपिटल फ्रेमवर्क के अध्ययन के लिए विशेषज्ञ समिति बनाने का निर्णय लिया गया है. करीब नौ घंटे तक चली इस मैराथन बैठक में आरबीआई बोर्ड ने बेसल फ्रेमवर्क सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यमों के जोखिम में फंसे ऋण पुनर्गठन और प्रॉन्प्ट करेक्टिव एक्शन के तहत बैंकों की वित्तीय स्थिति पर चर्चा की गई.

बैठक के बाद आरबीआई की ओर से जारी जानकारी में कहा गया कि निदेशक मंडल में इकॉनोमिक कैपिटल फ्रेमवर्क के अध्ययन के लिए विशेषज्ञ समिति बनाने, समिति के सदस्यों और समिति के कार्य क्षेत्र पर सरकार तथा आरबीआई दोनों ने मिलकर काम करने का निर्णय लिया है.