दैनिक समसामयिकी 23 मार्च 2018

मालदीव के राष्ट्रपति अब्दुल्ला यामीन ने देश से 45 दिनों बाद हटाया आपातकाल

मालदीव के राष्ट्रपति अब्दुल्ला यामीन ने 22 मार्च 2018 को देश में लगा आपातकाल 45 दिनों बाद खत्म कर दिया. आपातकाल के दौरान यामीन प्रशासन ने सरकार गिराने की कोशिश के आरोप में पूर्व राष्ट्रपति अब्दुल गयूम, मुख्य न्यायाधीश और सुप्रीम कोर्ट के एक न्यायाधीश को गिरफ्तार किया था. साथ ही, इस दौरान करीब 139 विपक्षी प्रदर्शनकारियों की भी गिरफ्तारी हुई थी.

अमेरिकी राष्ट्रपति ने चीन से होने वाले $60 अरब तक के आयात पर लगाया शुल्क

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने 22 मार्च 2018 को चीन से करीब $60 अरब तक के आयात पर शुल्क लगाने के प्रस्ताव वाले ज्ञापन पर हस्ताक्षर कर दिए. अमेरिका ने यह कदम ‘बौद्धिक संपदा की चोरी’ पर नियंत्रण के लिए उठाया है. दरअसल, डोनाल्ड ट्रंप ने अमेरिका में रोज़गार घटने और मैन्युफैक्चरिंग उद्योग की खराब हालत के लिए चीन को दोषी ठहराया है.

शहीदों के बच्चों की पढ़ाई का पूरा खर्च उठाएगी सरकार

रक्षा मंत्रालय ने बताया है कि सरकार पहले की तरह सेना के शहीद, विकलांग और लापता जवानों के बच्चों की पढ़ाई का पूरा खर्चा उठाएगी. अभी सरकार शहीदों के बच्चों की पढ़ाई पर प्रत्येक महीने 10 हजार रुपए खर्च करती है लेकिन अब इस खर्च की सीमा को हटा दिया गया है। शहीदों के परिवारों ने रक्षा मंत्रालय को पत्र लिखकर पढ़ाई के खर्चे की सीमा बढ़ाने की अपील की थी जिसे सरकार ने मान लिया है. इस योजना का लाभ करीब 3400 बच्चों को मिलता है और इस पर सलाना करीब पांच करोड़ रुपए खर्च होते हैं.

एलेवेनिल वैलारीवन ने जूनियर शूटिंग विश्व कप में 1 दिन में 2स्वर्ण पदक जीते

ऑस्ट्रेलिया में जारी जूनियर शूटिंग विश्व कप में भारतीय निशानेबाज़ एलेवेनिल वैलारीवन ने 1 दिन में 2 स्वर्ण पदक अपने नाम कर लिए हैं. एलेवेनिल वैलारीवन ने 22 मार्च 2018 को महिलाओं की 10 मीटर एयर राइफल स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीता. इससे पहले, एलेवेनिल ने श्रेया अग्रवाल और ज़ीना खिट्टा के साथ मिलकर टीम स्पर्धा का स्वर्ण पदक जीता था.

भारत ने सुपरसोनिक क्रूज़ मिसाइल ‘ब्रह्मोस’ का सफल परीक्षण किया

पोखरण (राजस्थान) में 22 मार्च 2018 को स्वदेश निर्मित सुपरसोनिक क्रूज़ मिसाइल ‘ब्रह्मोस’ का सुबह 8 बजकर 42 मिनट पर सफल परीक्षण किया गया. रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने इसके लिए डीआरडीओ और सेना को बधाई देते हुए बताया कि ‘ब्रह्मोस’ का निशाना बिलकुल सटीक रहा. गौरतलब है, यह मिसाइल हवा, ज़मीन और समुद्र में निशाना साधने में सक्षम हो चुकी है.

हमारा टेलीग्राम चैनल जॉइन करें

https://t.me/latestgk