दैनिक समसामयिकी 25 जनवरी 2019

राष्ट्रीय मतदाता दिवस 25 जनवरी को मनाया गया

भारतीय निर्वाचन आयोग द्वारा आठवां मतदाता दिवस 25 जनवरी 2019 को देश भर में मनाया गया. इस महत्त्वपूर्ण दिवस का आयोजन सभी भारतवासियों को अपने राष्ट्र के प्रति कर्तव्य की याद दिलाता है और साथ ही यह भी बताता है कि हर व्यक्ति के लिए मतदान करना बहुत ज़रूरी है.

भारत में मतदान की न्यूनतम आयु 18 वर्ष है. इस दिन को देश के लोकतंत्र का त्योहार भी कह सकते हैं. इस दिन वोट देने की लोकतांत्रिक प्रक्रिया के जश्न का दिन होता है. यह दि‍वस मतदाताओं में मतदान प्रक्रि‍या में कारगर भागीदारी के बारे में जानकारी फैलाने के रूप में भी प्रयोग कि‍या जाता है.

प्रसिद्ध हिंदी लेखिका कृष्णा सोबती का निधन

हिंदी की प्रसिद्ध लेखिका कृष्णा सोबती का 25 जनवरी 2019 को नई दिल्ली में निधन हो गया. वे 93 वर्ष की थीं. उनकी रचनाओं में महिला सशक्तिकरण और स्त्री जीवन की जटिलताओं का जिक्र मिलता है. सोबती को राजनीति-सामाजिक मुद्दों पर अपनी मुखर राय के लिए भी जाना जाता है.

कृष्णा सोबती का जन्म पाकिस्तान के गुजरात में हुआ था और वह विभाजन के बाद भारत आ गयीं थीं. उन्होंने शुरुआती लेखन दौर में छोटी कहानियां लिखकर लेखिका के तौर पर अपनी पहचान बनायी थी.

भारत 2019-20 में दुनिया की सबसे तेज़ी से बढ़ने वाली अर्थव्यवस्था बना रहेगा: यूएन रिपोर्ट

संयुक्त राष्ट्र (यूएन) की वैश्विक आर्थिक स्थिति एवं संभावनाएं (डब्ल्यूईएसपी) 2019 रिपोर्ट के अनुसार, भारत 2019 और 2020 में दुनिया की सबसे तेज़ी से बढ़ने वाली अर्थव्यवस्था बना रहेगा.

रिपोर्ट में कहा गया है कि वृद्धि को मजबूत निजी उपभोग और अधिक विस्तार वाले वित्तीय रुख तथा पिछले सुधारों के लाभ से सहारा मिल रहा है. इसमें कहा गया है कि मध्यम अवधि की वृद्धि दर के लिए निजी निवेश में सतत सुधार महत्वपूर्ण है.

नौसेना वायु स्टेशन आईएनएस कोहासा की शुरुआत की गई

एडमिरल सुनील लांबा पीवीएसएम, एवीएसएम, एडीसी, चैयरमैन सीओएससी और नौसेना प्रमुख ने 24 जनवरी 2019 को अंडमान-निकोबार स्थित नौसेना वायु स्‍टेशन आईएनएस शिबपुर की आईएनएस कोहासा के रूप में शुरुआत की.

आईएन कोहासा को यह नाम व्‍हाइट बेलिड सी ईगल के नाम पर दिया गया है जो अंडमान-निकोबार द्वीप समूह का स्‍थानीय बड़ा शिकारी पक्षी है. इस भव्‍य समारोह में वाइस एडमिरल विमल वर्मा, एवीएसएम, एडीसी कमांडर-इन–चीफ, अंडमान-निकोबार कमान सहित अनेक गणमान्‍य व्‍यक्तियों और वरिष्‍ठ अधिकारियों ने भाग लिया.

वेनेज़ुएला संकट: विश्व में उभरती नई समस्या, जानिए कैसे?

वेनेज़ुएला के राष्ट्रपति निकोलस मादुरो द्वारा हाल ही में अमेरिका के साथ सभी राजनीतिक संबंध समाप्त किये जाने की घोषणा की गई. इस घोषणा के बाद वेनेज़ुएला का राजनीतिक संकट एक बार फिर चर्चा में आ गया है.

वेनेज़ुएला में जनता द्वारा राष्ट्रपति निकोलस मादुरो के खिलाफ देशव्यापी प्रदर्शन किये जा रहे हैं. इसमें बहुत से लोगों के मारे जाने और आगजनी की सैंकड़ों घटनाएं सामने आ चुकी हैं. वेनेज़ुएला लंबे समय से आर्थिक संकट झेल रहा था लेकिन अब वह राजनीतिक संकट में भी फंस गया है.