राजस्थान बजट 2017-18-खास बातें

राज्य बजट 2017
मुख्यमंत्री ने बुधवार को चौथा बजट विधानसभा में पेश किया।
बजट में सीएम ने विभिन्न वर्गों के लिए कई घोषणाएं की।
आइए जानते हैं आखिर इस बार के बजट में क्या महंगा हुआ और क्या सस्ता


वर्तमान में वैट नियमों में संशोधन के तहत ऑनलाइन अपील का प्रावधान किया गया है।
वैट और सीएसटी रूल्स के तहत घोषणापत्रों को अंकित किए जाने की जानकारी छूटे जाने पर एक वर्ष में आवेदन किया जा सकता है। अब यह अवधि दो वर्ष की जारही है।
एग्जेंप्शन सर्टिफिकेट में संशोधन के लिए अब इसका समय 2 माह से बढ़ाकर ज्यादा किया जाना प्रस्तावित है।
वर्तमान में फॉर्म वैट की त्रुटि में संधोशन के लिए 31 मार्च 2017 तक बढ़ाई गई है।

राज्य के व्यापारियों के लिए एंट्री टैक्स में छूट दिया जाना प्रस्तावित है।
बंद यूनिट्स के लिए कर में रिबेट दिया जाएगा, जिन्होंने भूमि का उपयोग अन्य काम में नहीं किया है।
मेट्रो रेल सेवा को दी जा रही बिजली पर सेस सहित कई तरह के टैक्स पर छूट।
पर्यटकों को सस्ती हवाई सेवाओं के लिए एटीएफ की दर कम की गई।

उद्योग व व्यापार की जीएसटी पर आशंका को देखते हुए एक कमेटी का गठन किया गया है।
सिगरेट पर वैट को छोड़कर कोई भी नया कर नहीं लगाया गया है। सिगरेट पर 15 प्रतिशत वैट बढ़ाया गया है।
संपत्ति बेचान पर आम जनता को स्टैंप ड्यूटी में ढाई प्रतिशत की कमी की। केवल 0.5 प्रतिशत रहेगी।
ईडब्लूएस तथा एलआईजी के लेागों को सीएम आवास योजना के तहत दस्तावेजों की पूर्ति करने पर स्टैंप ड्यूटी पर 60 प्रतिशत और 30 फीसदी रिययत की घोषणा।

फैमिली सेटलमेंट के दस्तावेजों पर रजिस्ट्रेशन फीस को भी अधिकतम 10 हजार कर कम किया।
स्टार्टअप स्थापित करने के लिए 10 लाख रुपए के दस्तावेजों पर 31 मार्च 2017 से बढ़ाकर 31 मार्च 2018 तक पूर्ण छूट की घोषणा।
सिक यूनिट के हस्तांतरण के लिए स्टैंप ड्यूटी फ्री की गई।
GKToday.co.in – GK, HISTORY, SCIENCE MATHS, ENGLISH, HINDI & MANY MORE gktoday.co.in
मुख्यमंत्री ने पेश किया राज्य का बजट

मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने बुधवार को राज्य का बजट पेश करते हुए अनेक घोषणाएं की। इस दौरान उन्होंने राज्य की अर्थव्यवस्था की हालत बताई और बजट को आर्थिक रूप से महत्वपूर्ण बताया। तीन वर्षो में प्रदेश के विकास को दिशा मिली है, विरासत में मिली चरमराई अर्थव्यवस्था के कारण यह कार्य चुनौतीपूर्ण था। राज्य के विकास के लिए सरकार को सभी चुनौतियां मंजूर है।
सदन में हुआ हंगामा
बजट पेश करते समय जब मुख्यमंत्री जलदाय विभाग को लेकर घोषणाएं कर रही थी तो कांग्रेस के सचेतक गोविन्द सिंह डोटासरा उठकर बोलने लगे। उनके साथ ही कांग्रेस के अन्य सदस्य भी खडे हो गए और बोलने लगे। इससे आक्रोशित होकर संसदीय कार्य मंत्री राजेन्द्र राठौड ने लताडा कि इस प्रकार शोर शराबा कर बजट की गरिमा को कम किया जा रहा है।
मुख्यमंत्री के भाषण के महत्वपूर्ण अंश
विषम आर्थिक परिस्थितियों में कार्य किया।
प्रदेश को अनेक पुरस्कार व सम्मान मिले हैं।
उन्होंने पुरस्कारों की सूची भी गिनाई।
विजन 20—20 में आर्थिक विकास में तेजी लानी है।
सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता में महिला सशक्तिकरण को बढावा दिया जा रहा है।
बिजली पानी तथा सडक को बताया जरूरी
पेयजल सडक, शिक्षा, चिकित्सा में तीन वर्षों में कई कार्य व नवाचार किए जिनके परिणाम भी सामने आए।
बजट में प्लान व नान प्लान व्यय का प्रावधान समाप्त कर नवाचार किया।
पेपरलैस किया जाएगा बजट, विधायकों को भी मिलेगा पेन ड्राइव में
अलवर में 600 किमी सडकें बनेंगी।
केकडी में 15 किमी का बनेगा बाईपास।
जोधपुर में सोलर पार्क के लिए बनेगी नई सडक।
सार्वजनिक निर्माण विभाग के लिए छह हजार सात सौ करोड का बजट
रणथम्भौर से जयपुर हवाई मार्ग से जुडेगा
सरकार ने चार हजार गांवों को सडक से जोडा।
सिंधी कैम्प बस अड्डे के निर्माण को पूरा करवाया जाएगा।
2039 गांव ढाणियों को शुदध पेयजल से लाभांवित किया जाएगा।

बीकानेर दिल्ली हवाई मार्ग से जुडेगा।
हवाई पटिटयों की मरम्मत पर 16 करोड का होगा खर्च
80 करोड की लागत से बूंदी में होगी पेयजल योजना।
2039 गांवो में शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराया जाएगा।
वर्षों से अटकी पेयजल योजनाओं को इस वर्ष पूरा किया जाएगा।
डिग्गियों के सुधार पर 100 करोड रुपए खर्च होंगे।
8641 करोड का बजट पीएचईडी के लिए होगा इस वर्ष

उदय योजना के तहत 62 हजार करोड का ऋण अधिग्रहित किया।
5600 मेगावाट क्षमता की बढोतरी विद्युत उत्पादन में।
400 केवी 2 नए सब स्टेशन बनेंगे।
किसानों के हित में लिए कई कठोर निर्णय 8500 करोड का पडेगा भार
बूंद बूंद के कनेक्शन 3 वर्ष में सामान्य श्रेणी के हो जाएंगे।
दो वर्ष में एक लाख कषि कनैक्शन दिए जाएंगे।
नए उपखंड और वित्त कार्यालय खोले जाएंगे

पर्यटन
देशी विदेशी पर्यटकों की संख्या में 17.3 प्रतिशत की बढोतरी हुई है।
अग्रेसिव मार्केटिंग कैम्पेन के तहत पर्यटक स्थलों पर निर्माण कार्य होंगे।
10 जिलो में संग्रहालयों में पुनरुदधार व जीर्णोदधार किया जाएगा।
वरिष्ठ नागरिक तीर्थ यात्रा के तहत 20 हजार यात्रियों को तीर्थ करवाया जाएगा। 5 हजार को करवाई जाएगी हवाई यात्रा
तिरूपति बालाजी और बद्रीनाथ में धर्मशालाओं को निर्माण करवाया जाएगा।

वन एवं पर्यावरण
पेंथर की शहरों में आवाजाही बढी, लैपर्ड के प्रति जनआक्रोश बढ रहा है इसक संरक्षण के लिए प्रोजेक्ट लेपर्ड शुरू होगा। पहले साल 7 करोड का बजट
वनों में शिकार रोकने व सुरक्षा के लिए आई टी सुरक्षा सिस्टम लगाया जाएगा।
60 लाख पौधे लगाए जाएंगे। 25 लाख बडे पौधे तैयार किए जाएंगे।
बांसवाडा, बाडमेर, बारां शाहबाद में स्म्रति वनों का होगा निर्माण
भिवाडी में छह एमएलडी आर ओ प्लान्ट का निर्माण होगा।

—ग्राम पंचायतो में नवीन पशु चिकित्सालय खोल जाएंगे।
—जयपुर, जोधपुर, उदयपुर आधुनिक होंगे चिकित्सालय
—सिंचाई परियोजनाओं को जीर्वोदार किया जाएगा
—आॅनलाइन खनन पटृों की निलामी होगी
—मुख्यमंत्री बीज स्वाभलंबन योजना शुरू होगी |

=========================

सीएम वसुंधरा राजे पेश कर रही बजट
👉.’आगामी 2साल में 1लाख नए कृषि कनेकशन की सौगात’
✍’36 करोड़ के पर्यटन सुधार के कार्यो की सौगात’
✍’अजमेर,भरतपुर,कोटा में पुरातत्व संरक्षण के कार्य होंगे’
👉’खेतड़ी में स्वामी विवेकानंद की याद को किया जाएगा ताजा’
👉’टोंक में हस्तलिखित ग्रंथों का कराया जाएगा डिजिटलाइजेशन’
👉’चित्तौड़गढ़ किले के संरक्षण व पुनरुद्धार के लिए भी सौगात’
👉’झालावाड़ के सूर्य मंदिर में होगा विकास कार्य’
👉’20000 लोगों को मुफ्त करवाई जाएगी धार्मिक यात्रा’
👉’5000 बुजुर्ग यात्रियों को हवाई तीर्थ यात्रा करवाई जाएगी मुफ्त’
👉कई दरगाहों के विकास को भी सीएम ने बजट में रखा लक्ष्य
186 करोड़ से ज्यादा का विकास बजट कला व संस्कृति के लिए
वृंदावन स्थित मंदिर में भी राज्य सरकार करेगी खर्च
👉तिरुपति में प्रदेश के यात्रियों को धर्मशालाओं की सौगात
माउंट आबू को ईको टूरिज्म के लिहाज से किया जाएगा विकसित
रणथंबोर,जवाई,मुकुंदरा,झालाना को ITसिस्टम से किया जाएगा लैस
👉सीएम राजे ने राज्य को दी स्मृति वनों की सौगात
👉बांसवाड़ा के लिए 47 लाख,बाड़मेर को दो करोड़ रु.
👉जालौर के लिए 1 करोड़ रु व अन्य शहरों को भी सौगात
👉भिवाड़ी में प्रदूषण नियंत्रण के लिए छह करोड़ की सौगात
प्लास्टिक इंजीनियरिंग के लिए जयपुर को सौगात
✍👉51 करोड़ रुपए से ज्यादा की सौगात
👉कपड़ा कृषि व खाद्य प्रसंस्करण को 2नए केंद्र की स्थापना होगी
👉रीको की सेवाओं को पूरी तरीके से किया जाएगा ऑनलाइन
औद्योगिक क्षेत्रों में सुरक्षा के लिए अग्निशमन की की जाएगी व्यवस्था
👉एमएसएमई व स्टार्टअप्स को दिया जाएगा बढ़ावा
👉सीएम राजे ने बजट में युवाओं को दी कई सौगात
👉खनन प्रभावित क्षेत्रों में रहने वाले लोगों को सुविधाएं
👉उनके लिए आधारभूत सुविधाओं को किया जाएगा विकसित
500 करोड़ रुपए का किया जाएगा खर्च
👉आगामी 2सालों में संभाग स्तर पर होंगे ग्राम के आयोजन
👉आगामी सालों में एक साल किसानों के लिए दी जाएगी
👉उनकी मिट्टी में उर्वरकता बढ़ाने की योजना
👉1 लाख 50000 मेट्रिक टन यूरिया की भी सौगात
👉झालावाड़ में उद्यानिकी,वानिकी का नया पाठ्यक्रम होगा शुरू
👉विद्यार्थियों के लिए नया पाठ्यक्रम होगा शुरू
👉मुख्यमंत्री बीज स्वावलंबन योजना की किसानों को सौगात
👉क्रय विक्रय सहकारी समितियों के लिए गोदाम निर्माण की सौगात
👉सहकारी क्षेत्र में भी अन्नपूर्णा भंडार किए जाएंगे शुरू
👉सीएम राजे ने भेड़ पालन को दी बड़ी सौगात
👉भेड़ पालन योजना को फिर से किया जाएगा शुरू
👉सभी ग्राम पंचायतों में नवीन पशु चिकित्सा उप केंद्र खोले जाएंगे
👉राजस्थान के कई क्षेत्रों को ए श्रेणी पशु चिकित्सा केंद्रों की सौगात
👉संभागों के पशु चिकित्सा के पॉली क्लीनिक जुड़ेंगे टेली मेडिसन से
👉29 लाख साइल हेल्थ कार्ड बनाए जाएंगे
👉1 लाख किसानों को बांटे जाएंगे मिनी किट
👉लघु व सीमांत किसानों का अनुदान बढ़ाया
👉60 से 65, सैन्य के लिए 45 से 50 किया
👉वर्क साइट की ज़िला स्तर से होगी मॉनिटरिंग
👉3156 करोड़ 61 लाख का कृषि बजट
👉चंबल बेसिन के पानी को राज्य के अन्य हिस्सों में पहुंचाया जाएगा
👉13 जिलों को मिलेगा इसका लाभ
👉करोली जिले को एक सौगात। बसेड़ी मासलपुर मार्ग बनेगा
👉निवाई, आबूरोड, डूंगरपुर में मॉडल छात्रावास खोले जाएंगे
👉आंगनबाड़ी केंद्रों में आधारभूत सुविधाएं होगी विकसित
30 करोड़ की लागत से किया जाएगा खर्च
👉आर्थिक पिछड़ा वर्ग के लिए भी मुख्यमंत्री ने की घोषणा
👉IIM,IIT व दूसरी परीक्षाओं में टॉप सौ स्टूडेंट्स को आर्थिक सहायता
👉हिंसा,उत्पीड़न की शिकार महिलाओं के लिए अपराजिता सेंटर जयपुर में
👉करौली,जालौर,चित्तौड़गढ़,भीलवाड़ा अपराजिता सेंटर स्थापित किया जाए
👉बीकानेर,झुंझुनूं,राजसमंद,पाली,जैसलमेर,बारां अपराजिता सेंटर स्थापित होंगे
👉धौलपुर,हनुमानगढ़,प्रतापगढ़ जिले में भी अपराजिता सेंटर स्थापित होंगे
👉1904 करोड़ 51 लाख रु का प्रावधान महिला बाल विकास विभाग के लिए
👉बालिकाओं के लिए छात्रावास का पूरा खर्च सरकार करेगी वहन
👉उदयपुर में प्रतियोगी परीक्षाओं को छात्रावास का पूरा खर्च करेगी वहन
👉निवाई, आबूरोड, डूंगरपुर में मॉडल छात्रावास खोले जाएंगे
खेल छात्रावासों की संख्या बढ़ाई
👉सीएम राजे ने 50 से 75 खेल छात्रावासों की दी सौगात
अब 50 की जगह 75 छात्रावास खेल छात्रावास होंगे
👉गुरु गोविंद सिंह जी के 350वें जन्म शताब्दी वर्ष पर होंगे कार्य
👉सिख समाज को भी सीएम राजे की धार्मिक सौगात
👉राज्य में मदरसा जनसहभागिता योजना होगी शुरू
👉40% राशि जनसहयोग से दिए जाने पर 60% राज्य सरकार खर्च करेगी राशि
👉भरतपुर में कुश्ती बीकानेर में साइकिल एकेडमी खोली जाएगी
अंतरराष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ियों के लिए पेंशन योजना शुरू की जाएगी
👉SMS स्टेडियम में किए जाएंगे विभिन्न विकास कार्य
👉चौगान व विद्याधर नगर स्टेडियम में भी करवाए जाएंगे विकास कार्य
👉निजी क्षेत्र में स्पोर्ट्स एकेडमी स्थापित करने को लाई जाएगी नई नीति
👉सरकार ने की 37 हज़ार शिक्षकों की भर्ती और 86 हजार को दी पदोन्नति
👉6 से 14 साल के बच्चों का रुझान सरकारी स्कूलों की तरफ बढ़ा